मैराडोना ने कहा- मैं फुटबॉल का भगवान नहीं, मैं साधारण खिलाड़ी

कोलकाता। डिएगो मैराडोना 2008 के बाद से कोलकाता में दूसरी बार पहुचे हैं। अर्जेन्टीना लीजेंड अगले तीन दिनों तक शहर में रहेंगे। 1986 में अर्जेंटीना के साथ विश्व कप विजेता मैराडोना के कई कार्यक्रम हैं। मैराडोना ,एक शानदार पांच सितारा होटल में 'मैराडोना सूट' को मैदान पर उनके सबसे यादगार क्षणों की तस्वीरों से सजाया जाएगा। इसके साथ ही, सूट की दीवारों में कम्युनिस्ट क्रांतिकारी चे गवेरा और पूर्व क्यूबा के नेता फिदेल कास्त्रो की तस्वीरें होंगी, जिन्हें मैराडोना अक्सर "दूसरा पिता" कहते हैं। उनके खाने के मेनू में मुख्य रूप से बीफ और स्टेक की तैयारी होगी क्योंकि मैराडोना उनसे प्यार करते हैं। होटल ने इस प्रयोजन के लिए लैटिन अमेरिकी व्यंजनों में निपुण एक विशेष शेफ को काम पर रखा है।

मैराडोना ने कहा- मैं फुटबॉल का भगवान नहीं, मैं साधारण खिलाड़ी

होटल के अधिकारियों में से एक ने बताया, 'हम चाहते हैं कि हमारे समय के सबसे बड़ा फुटबॉलर की इस यात्रा को यादगार बनाना चाहते हैं। हमें सूचित किया गया है कि वह बीफ और स्टेक व्यंजन पसंद करते हैं, खासकर ग्रील्ड चिकन, और हमने उनके लिए एक विशेष मेनू तैयार किया है।'

आज सोमवार को पुलिस अधिकारियों ने सुरक्षा व्यवस्था के साथ जांच करने के बाद मदर टेरेसा द्वारा स्थापित मिशनरी ऑफ़ चैरिटी गए और हां कुछ युवा फुटबॉलरों से भी मुलाकात की। इस दौरान एक स्टैचू का उद्घाटन कर मैराडोना ने कहा कि 'मैं फुटबॉल का देवता नहीं हूं लेकिन एक साधारण फुटबॉल खिलाड़ी हूं। मैं कोलकाता में फिर से आकर खुश हूं।' कल यानी मंगलवार को को मैराडोना शहर से क्रिकेट के आइकन सौरव गांगुली द्वारा आयोजित एक प्रदर्शनी मैच में कुछ मिनट के लिए फुटबॉल खेल सकते हैं। बुधवार को मैराडोना एक बार शहर घूमेंगे।

Story first published: Monday, December 11, 2017, 21:51 [IST]
Other articles published on Dec 11, 2017
Please Wait while comments are loading...
POLLS