महाराष्ट्र: कबड्डी ने घर के इकलौते चिराग की ली जान

Posted By: Amit J
महाराष्ट्र: कबड्डी ने घर के इकलौते चिराग की ली जान

मुंबई। गौरव अमोल के माता-पिता ने कभी सोचा नहीं होगा कि कबड्डी उनके 13 साल के लाल की जान भी लेगी। लेकिन, यही हुआ है शनिवार को पुणे में खेल गए इंटर स्कूल कंपीटिशन कबड्डी गेम के दौरान, जब गौरव खेलते हुए अचानक गिर पड़ा और फिर वह कभी उठ नहीं पाया। वहीं, परिवार ने गौरव की मौत के पीछे का कारण नहीं पता होने की वजह से अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया है। यह घटना महाराष्ट्र के शिरूर का है और पुलिस ने मामला दर्ज कर, जांच शुरू कर दी है।

अपने परिवार का इकलौता संतान गौरव अपने माता-पिता को छोड़कर जा चुका है। पिछले साल रेल दुर्घटना में गौरव के पिता हमेशा के लिए बेड रेस्ट पर चले गए और परिवार चलाने के लिए उसकी मां ने खेत में जाकर काम करना शुरू कर दिया। गौरव शिरूर के पिंपले जगताप इलाके में नवोदय विद्यालय विद्यालय के कक्षा आठवीं छात्र था।

मुंबई बेस्ड न्यूजपेपर मिड डे के मुताबिक, गौरव बहुत अच्छा स्पोर्ट्समैन था और शानदार कबड्डी खिलाड़ी था। गौरव पिछले चार साल से स्पोर्ट्स से जुड़ा था और उसे किसी भी प्रकार की बीमारी नहीं थी। शनिवार को खेलते वक्त गौरव अचानक गिर गया, तभी वहां उसे देखने के लिए किसी भी प्रकार के डॉक्टर या मेडिकल की सुविधा नहीं थी। उसके बाद पीड़ित को हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया है। गौरव के परिवार वाले स्कूल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

स्कूल के प्रिंसिपल ने कहा, 'गौरव मेरीट के आधार पर कंपिटिशन में सेलेक्ट हुआ था। यह बहुत बड़ा नुकसान हुआ है। हमने उसे बचाने की पूरी कोशिश की थी।' सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर ने मामले की मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच की जा रही है। पुलिस ने बॉडी को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है।

Read more about: maharashtra kabaddi
Story first published: Monday, April 2, 2018, 17:28 [IST]
Other articles published on Apr 2, 2018

MyKhel से प्राप्त करें ब्रेकिंग न्यूज अलर्ट