आखिरी 5 ओलंपिक में ऐसा रहा भारत का प्रदर्शन, सिर्फ एक ही खिलाड़ी जीत सका 'गोल्ड'

स्पोर्ट्स डेस्क (नोएडा) : ओलंपिक की शुरूआत ठीक 125 साल पहले 1896 में एथेंस में हुई थी। अब टोक्यो ओलंपिक 2020 की शुरूआत शुक्रवार यानी कि 23 जुलाई को होने जा रही है। हालांकि तब से लेकर अब तक काफी चीजें बदल चुकी हैं। 206 भाग लेने वाले देशों के 11000 से अधिक एथलीट जापानी राजधानी में 8 अगस्त तक मेडल जीतने की होड़ रखेंगे। वहीं भारतीय खिलाड़ियों पर भी पैनी नजर रहेगी। देश को इस बार पहले से अधिक मेडल हासिल करने की उम्मीद है। अगर आखिरी 5 ओलंपिक में भारत के प्रदर्शन पर नडर डालें तो कुछ खास नहीं रहा है।

सिर्फ एक खिलाड़ी जीत सका 'गोल्ड'
भारत में कई राज्यों से ऐसे खिलाड़ी निकले हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दमदार खेल दिखाया है, लेकिन जब बात ओलंपिक की आती है तो सभी उम्मीदें टूट जाती हैं। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि आखिरी 5 ओलंपिक में भारत को सिर्फ एक ही 'गोल्ड' मेडल हासिल हुआ है।

ओलंपिक शुरू होने वाला है, इन 5 हसीनाओं के पास भी रहेगा 'मेडल' जीतने का माैकाओलंपिक शुरू होने वाला है, इन 5 हसीनाओं के पास भी रहेगा 'मेडल' जीतने का माैका

2016 के ओलंपिक में आए सिर्फ 2 मेडल

2016 के ओलंपिक में आए सिर्फ 2 मेडल

ओलंपिक 2016 के खेलों का आयोजन 5 अगस्त से 21 अगस्त के बीच ब्राजील के रियो डी जनेरियो में हुआ था। 31वें ओलंपियाड में 207 देशों के 11,238 एथलीटों ने भाग लिया। इसमें 42 खेल, 37 वेन्यू और 306 से ज्यादा इवेंट शामिल थे। संयुक्त राज्य अमेरिका ने 46 गोल्ड, 37 सिल्वर और 38 ब्राॅन्ज मेडल जीते और 121 मेडल के साथ शीर्ष पर रहा था। भारत ने रियो में 117 खिलाड़ियों का मजबूत ओलंपिक दल भेजा, जिसमें 63 पुरुष और 54 महिलाएं शामिल थीं, लेकिन एक सिल्वर और एक ब्राॅन्ज मेडल ही भारत को मिला। महिला शटलर पीवी सिंधु ने सिल्वर मेडल जीता जबकि महिला पहलवान साक्षी मलिक ने ब्राॅन्ज मेडल जीता। 2016 के ओलंपिक खेलों का आयोजन 5 अगस्त से 21 अगस्त के बीच ब्राजील के रियो डी जनेरियो में हुआ था। 31वें ओलंपियाड में 207 देशों के 11,238 एथलीटों ने भाग लिया।

2012 के ओलंपिक में दिखा बेहतर प्रदर्शन

2012 के ओलंपिक में दिखा बेहतर प्रदर्शन

हालांकि, 2012 के ओलंपिक के खेलों में भारत का प्रदर्शन अच्छा दिखा था। खेलों की मेजबानी लंदन में हुई थी और इसमें 204 देशों के 10768 एथलीट (5992 पुरुष, 4776 महिलाएं) शामिल हुए थे। 30वें ओलंपियाड का आयोजन 27 जुलाई से 12 अगस्त के बीच किया गया था। भारत ने 13 खेलों में भाग लेने के लिए 83 एथलीटों को लंदन भेजा था। पदकों की संख्या के मामले में यह ओलंपिक में भारत का सबसे प्रभावशाली प्रदर्शन था, जिसने कुल 6 मेडल (2 सिल्वर और 4 ब्राॅन्ज) जीते थे। निशानेबाज विजय कुमार और पहलवान सुशील कुमार ने सिल्वर मेडल जीता जबकि निशानेबाज गगन नारंग, पहलवान योगेश्वर दत्त, महिला मुक्केबाज मैरी कॉम और महिला शटलर साइना नेहवाल ने ब्राॅन्ज जीता था।

2008 में आया 'गोल्ड'

2008 में आया 'गोल्ड'

पिछले 5 ओलंपकि में 2008 के खेलों में भारत को एकमात्र गोल्ड मेडल मिला था। चीन की राजधानी बीजिंग ने 8 से 24 अगस्त के बीच 2008 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक की मेजबानी की थी। 204 देशों के कुल 10942 एथलीटों ने 28 खेलों और 302 इंवेंट्स में भाग लिया। यह पहली बार था जब चीन ने ओलंपिक की मेजबानी की थी और आयोजनों की मेजबानी के लिए कुल 37 स्थानों का इस्तेमाल किया गया था। हालांकि, घुड़सवारी के कार्यक्रम हांगकांग में आयोजित किए गए थे। चीन 48 गोल्ड और कुल मिलाकर 100 मेडल के साथ पदक तालिका में शीर्ष पर रहा था। वहीं भारत ने एक गोल्ड और दो ब्राॅन्ज मेडल जीतकर सफर समाप्त किया था। अभिनव बिंद्रा ने 10 मीटर एयर राइफल में गोल्ड मेडल जीता। पहलवान सुशील कुमार और मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने अपने-अपने वर्ग में ब्राॅन्ज मेडल जीता था।

2004 में आया एकमात्र मेडल

2004 में आया एकमात्र मेडल

वहीं साल 2004 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में भारत को सिर्फ एक ही मेडल मिल पाया था, जो निशानेबाजी में राज्यवर्धन सिंह राठौर ने दिलाया था। उन्होंने सिल्वर मेडल जीता था। यह ओलंपिक ग्रीस की राजधानी एथेंस में 13 से 29 अगस्त के बीच आयोजित किए गए थे। 28वें ओलंपियाड ने 201 देशों के 10625 एथलीटों (6296 पुरुषों, 4329 महिलाओं) की मेजबानी की। कुल 28 खेल शामिल थे। संयुक्त राज्य अमेरिका 36 गोल्ड मेडल (कुल मिलाकर 101 मेडल) के साथ पदक तालिका में शीर्ष पर है। भारत ने 14 खेलों में 73 एथलीटों का एक दल एथेंस भेजा था।

 ओलंपिक 2000 में भी मिला सिर्फ एक मेडल

ओलंपिक 2000 में भी मिला सिर्फ एक मेडल

ओलंपिक 2000 में सिडनी में आयोजित किया गया था। 27वां ओलंपियाड 15 सितंबर और 1 अक्टूबर के बीच आयोजित किया गया था, और यह दूसरी बार ग्रीष्मकालीन ओलंपिक मेलबर्न 1956 के बाद ऑस्ट्रेलिया में आयोजित किया गया था। 199 देशों की टीमों ने भाग लिया और 10651 एथलीटों (6582 पुरुष और 4069 महिलाएं) ने 28 खेलों में भाग लिया। पदक तालिका में संयुक्त राज्य अमेरिका पहले स्थान पर रहा। उसने 37 गोल्ड मेडल जीते थे। वहीं भारत की महिला भारोत्तोलक कर्णम मल्लेश्वरी एकमात्र पदक विजेता थीं। उन्होंने महिलाओं के 69 किग्रा में ब्राॅन्ज मेडल जीता था। कुल 65 भारतीय एथलीटों ने भाग लिया था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Thursday, July 22, 2021, 12:58 [IST]
Other articles published on Jul 22, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X