15 अक्टूबर से 17 दिसंबर तक निशानेबाजों के लिए लगेगा अभ्यास शिविर

नई दिल्ली। अब धीरे-धीरे सभी चीजें वापस लाैट रही हैं। कोरोना वायरस के कारण पिछले लगभत 7 महीनों से सभी खेल ठप पड़े हुए थे। लेकिन अब ओलंपिक कोर ग्रुप निशानेबाजों के लिए दो महीने का कोचिंग कैम्प यहां राष्ट्रीय राजधानी के कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में गुरुवार से शुरू हो रहा है जो 17 दिसंबर तक चलेगा। वो सभी भारतीय निशानेबाज इस कैंप का हिस्सा बनने जा रहे हैं जो टोक्यो ओलंपिक के लिए कोटा हासिल कर चुके हैं। कैम्प में 32 निशानेबाज शामिल होंगे, जिसमें 18 पुरुष और 14 महिला निशानेबाज होंगी। इसके अलावा इसमें आठ कोच, तीन विदेशी कोच और दो स्पोर्ट स्टाफ भी होंगे।

IPL 2020 : अभी तक फ्लाॅप साबित हुए हैं 5 नामी खिलाड़ी, लिस्ट में 2 भारतीय

यही नहीं, कैम्प के दौरान बायो सिक्योर बबल को सुनिश्चित करने, कोरोना वायरस को रोकने और एथलीटों की ट्रेनिंग के लिए सुरक्षित माहौल बनाए रखने के लिए मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) को बनाए रखने की संयुक्त जिम्मेदारी भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) और राष्ट्रीय राइफल निशानेबाजी संघ (एनआरएआई) की होगी। साई ने मंगलवार को जारी एक बयान में कहा कि प्रशासक के शूटिंग रेंज को बनाए रखने की जिम्मेदारी डॉक्टर कर्णी सिंह शूटिंग रेंज के पास है।

IPL 2020 के 28 मैच पूरे, कैसी है अंक तालिका, किसके पास है पर्पल कैप?

एनआरएआई के सचिव राजीव भाटिया ने जानकारी देते हुए कहा कि साई द्वारा जारी किए गए एसओपी के माध्यम से हर चीज का विशेष ध्यान रखा जाएगा। मार्च में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बाद यह पहला राष्ट्रीय कैम्प होगा जो आयोजित किया जाएगा और इसके लिए सभी कदम उठाए जाएंगे ताकि निशानेबाजों को सुरक्षित और आरामदायक वातावरण में ट्रेनिंग करने का मौका मिले।'' बता दें कि होटल से लेकर शूटिंग रेंज में प्रवेश तक एनआरएआई की जिम्मेदारी होगी कि वह सुरक्षित बायो-बबल रखने के लिए एसओपी बनाए रखे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Read more about: shooting sports olympics
Story first published: Tuesday, October 13, 2020, 16:34 [IST]
Other articles published on Oct 13, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X