Tokyo Olympics: AITA ने सानिया मिर्जा, रोहन बोपन्ना के कमेंट्स को बताया गलत, दोनों को दे दी नसीहत

नई दिल्लीः अखिल भारतीय टेनिस संघ (AITA) के महासचिव अनिल धूपर ने सोमवार को टोक्यो ओलंपिक क्वालीफिकेशन विवाद को लेकर सोशल मीडिया पर सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना के कमेंट पर पलटवार करते हुए कहा कि यह सही नहीं है और गलत जानकारी देता है।

अनिल धूपर का बयान तब आया है जब रोहन बोपन्ना ने AITA को लताड़ लगाई थी क्योंकि उनको लगा कि इस संस्था ने उनको अंधेरे में रखा। इतना ही बोपन्ना ने कहा कि AITA ने मीडिया और देश को भी गुमराह करते हुए टोक्यो ओलंपिक में पुरुषों के डबल्स कंपटीशन के लिए क्वालीफिकेशन प्रक्रिया की गलत जानकारी दी।

बोपन्ना के ऐसा करने के बाद सानिया मिर्जा ने भी अनुभवी टेनिस खिलाड़ी का समर्थन करते हुए कहा कि AITA की वजह से मिक्सड डबल्स प्रतियोगिता में भारत से संभावित पदक का मौका छीन लिया गया है। बता दें कि सानिया और बोपन्ना की जोड़ी मिक्सड डबल्स में खेलती है।

Tokyo Olympics : टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, अंकिता रैना ओलंपिक के लिए रवानाTokyo Olympics : टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, अंकिता रैना ओलंपिक के लिए रवाना

AITA ने धूपर के हवाले से कहा, "रोहन बोपन्ना और फिर सानिया मिर्जा की ट्विटर कमेंट अनुचित, भ्रामक और ज्ञान के बिना हैं: उन्हें योग्यता के संबंध में आईटीएफ की रुल बुक को चैक करना चाहिए था।"

AITA ने साफ किया है कि बोपन्ना और दिविज सरन का नाम भेजा गया था लेकिन उनकी रैंकिंग इतनी अच्छी नहीं थी कि वे डायरेक्ट बर्थ बुक कर सकें। यह इंटरनेशनल टेनिस बॉडी का फैसला था जिसके चलते बोपन्ना बाहर हुए हैं, इसमें AITA का कोई रोल नहीं है। बाद में भारतीय टेनिस एसोसिएशन ने सुमित नागल के साथ जोड़ी बनाने के लिए बोपन्ना का नाम भेजा लेकिन वह भी नहीं लिया गया।

रोहन बोपन्ना का यह कमेंट भी तब आया जब यह खबर आई कि AITA ने अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) से टोक्यो खेलों में डबल्स प्रतियोगिता के लिए सुमित नागल और उनकी जोड़ी बनाने की रिक्वेस्ट की थी। AITA ने कथित तौर पर दिविज शरण का नामांकन वापस ले लिया और नागल और बोपन्ना के नाम भेज दिए क्योंकि पिछली जोड़ी अपनी कंबाइंड डबल्स रैंकिंग के साथ सीधे बर्थ को सील करने में विफल रही।

हालांकि बोपन्ना ने कहा कि आईटीएफ ने उनके सवाल का जवाब देते हुए कहा कि उसे नागल और बोपन्ना की जोड़ी के लिए कभी कोई नामांकन नहीं मिला और वैश्विक टेनिस संस्था ने स्पष्ट किया कि 22 जून की समय सीमा के बाद कोई नया नामांकन स्वीकार नहीं किया गया। बोपन्ना इस बात से भन्नाए हुए थे एआईटीए ने उनको ओलंपिक में खेलने की झूठी उम्मीदे दी जबकि वास्तव में ऐसा कुछ नहीं होना था।

पोस्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए, सानिया मिर्जा ने हैरानी व्यक्त की और कहा कि स्पष्टता की कमी के कारण भारत को मिक्सड डबल्स स्पर्धा में पदक जीतने का एक वास्तविक मौका गंवाना पड़ सकता है। विशेष रूप से, मिर्जा ने कहा कि बोपन्ना और वे खुद मिक्सड डबल्स में उतरने का प्लान कर रहे थे स्पर्धा में उतारने की योजना थी, बशर्ते बोपन्ना को टोक्यो का टिकट मिला होता।

भारत के पास टोक्यो ओलंपिक में पुरुष सिंगल इवेंट में सुमित नागल होंगे जबकि सानिया मिक्सड डबल्स स्पर्धा के लिए अंकिता रैना के साथ जोड़ी बनाएंगी। खेल जापान की राजधानी में 23 जून से शुरू होंगे।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Tuesday, July 20, 2021, 8:39 [IST]
Other articles published on Jul 20, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X