IND vs WI, 2nd ODI: जीत के लिये विराट सेना बेकरार, इन 3 चीजों पर करना होगा काम नहीं तो मिलेगी हार

नई दिल्ली। भारत और वेस्टइंडीज के बीच जारी वनडे सीरीज के पहले मैच में हार के बाद विराट सेना विशाखापट्टनम के मैदान पर हिसाब बराबर करने उतरेगी। बुधवार को एसीए-वीडीसीए क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले इस करो या मरो मैच में भारतीय टीम के सामने जबरदस्त वापसी करने की चुनौती है। चेन्नई में खेल गये पहले मैच में भारतीय टीम को कैरिबियाई बल्लेबाजों ने एकतरफा अंदाज में रौंदकर 8 विकेट से जीत हासिल की थी जिसके साथ ही विंडीज की टीम 3 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना चुकी है। अब अगर सीरीज में भारतीय टीम को बने रहना है तो उसे विशाखापट्टनम में किसी भी हाल में जीत हासिल करनी होगी।

2nd ODI, IND vs WI: विराट-रोहित को पछाड़ इस लिस्ट में टॉप करना चाहते हैं शाई होप, जानें क्या बोले

वेस्टइंडीज के खिलाफ जीत हासिल करना भारत के लिये बड़ी चुनौती इसलिये भी बना हुआ है क्योंकि भारतीय टीम इस सीरीज में अब तक सही संयोजन नहीं ढूंढ पा रही है। बुधवार को अगर भारतीय मैनेजमेंट इस गलती को दोहराता है तो इसमें कोई हैरानी वाली बात नहीं होगी कि वनडे में सातवें नंबर की टीम दुनिया की नंबर 2 की टीम को हरा कर सीरीज अपने नाम कर ले।

Year Ender 2019: ICC ने जारी की वनडे और टी20 टीम ऑफ द ईयर, इन भारतीय खिलाड़ियों का रहा जलवा

विराट सेना को गेंदबाजी में करना होगा सुधार

विराट सेना को गेंदबाजी में करना होगा सुधार

पहले मैच में हार की बड़ी वजह रही भारतीय टीम की कमजोर गेंदबाजी, इस मैच में कैरिबियाई बल्लेबाज शिमरन हेटमायर और शाई होप ने भारतीय गेंदबाजी की धज्जियां उड़ाते हुए अपने-अपने शतक पूरे किये और 8 विकेट से जीत हासिल की। इस मैच में स्पिनर्स एक भी विकेट निकाल पाने में नाकाम रहे। मोहम्मद शमी से लेकर दीपक चहर, शिवम दुबे तक इस मैच में आशा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए जिसकी टीम को जरूरत थी। दूसरे मैच में भारत गेंदबाजी में बदलाव कर सकती है।

केदार जाधव की जगह चहल की हो सकती है वापसी

केदार जाधव की जगह चहल की हो सकती है वापसी

पिछले मैच में भारतीय टीम को एक स्पेशलिस्ट गेंदबाज की कमी खली थी, ऐसे में भले ही विराट कोहली बल्लेबाजी संयोजन में बदलाव न करना चाहे लेकिन मध्यक्रम में केदार जाधव को बाहर कर युजवेंद्र चहल को टीम में शामिल किया जा सकता है। चेन्नई में ऋषभ पंत और श्रेयस अय्यर ने अर्धशतकीय पारियां खेल कर भारत को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया था, लेकिन अंत में इन दोनों के आउट होने के बाद ज्यादा रन नहीं आए थे। ऐसे में बल्लेबाजी भी बड़ी चिंता का सबब है।

फील्डिंग पर देना होगा ध्यान, नहीं तो हार जायेगी सीरीज

फील्डिंग पर देना होगा ध्यान, नहीं तो हार जायेगी सीरीज

भारतीय टीम बल्लेबाजी और गेंदबाजी में बदलाव कर सकता है लेकिन फील्डिंग के लिये खिलाड़ियों को अपने स्तर पर सुधार करना होगा वरना भारत सीरीज हार सकता है। वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 से लेकर वनडे तक भारतीय टीम की फील्डिंग कुछ खास नहीं रही है। चेन्नई में श्रेयस अय्यर ने हेटमायर का कैच छोड़ा था जिसका टीम को हार के तौर पर खामियाजा भुगतना पड़ा था।

आत्म-विश्वास से भरी नजर आयेगी वेस्टइंडीज

आत्म-विश्वास से भरी नजर आयेगी वेस्टइंडीज

वहीं विंडीज इस मैच में आत्मविश्वास और भरोसे के साथ जाएगी कि वह भारत को उसके घर में हरा सकती है। विंडीज के पास 2006 के बाद से भारत में पहली वनडे सीरीज जीतने का मौका है और कप्तान केरन पोलार्ड अपनी कप्तानी में यह इतिहास रचने की पूरी कोशिश करेंगे।

बल्लेबाज एक बार फिर होप और हेटमायर के जिम्मे होगी लेकिन सुनील एम्ब्रीस जैसे बल्लेबाज को भारत हल्के में नहीं ले सकती। यही हाल रोस्टन चेज का है।

ऐसी हो सकती है टीमें

ऐसी हो सकती है टीमें

टीमें (सम्भावित) :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), मयंक अग्रवालस लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, शिवम दुबे, केदार जाधव, रवींद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक चहर, मोहम्मद शमी, शार्दूल ठाकुर।

वेस्टइंडीज : केरन पोलार्ड (कप्तान), सुनीए एम्ब्रीस, शाई होप, खैरी पिएरे, रोस्टन चेज, अल्जारी जोसेफ, शेल्डन कॉटरेल, ब्रेंडन किंग, निकोलस पूरन, शिमरन हेटमायेर, इविन लुइस, रोमारिया शेफर्ड, जेसन होल्डर, कीमो पॉल, हेडन वॉल्श जूनियर।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Tuesday, December 17, 2019, 20:11 [IST]
Other articles published on Dec 17, 2019
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X