IPL 2021 में बदल जायेगा अंपायरिंग का यह बड़ा नियम, थर्ड अंपायर लेंगे यह फैसला

Big rule change in IPL 2021 Third Umpire can now correct on field's umpire 'No Ball' and 'Run Short' call: नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच जारी द्विपक्षीय श्रृंखला में मैदानी अंपायर के सॉफ्ट सिग्नल के फैसलों के चलते हाल ही में काफी विवाद देखने को मिला है, जिसके चलते थर्ड अंपायर के पास निर्णायक सबूत न होने के बावजूद खिलाड़ियों को आउट देना पड़ा है। इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में पहले सूर्यकुमार यादव और फिर वाशिंगटन सुंदर को इसका शिकार होना पड़ा। सॉफ्ट सिग्नल की इस समस्या को लेकर जहां बीसीसीआई ने आईसीसी के सामने इसे बदलने की मांग रखी है तो वहीं पर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी इन नियमों में बदलाव करने की मांग की है।

IPL 2021: राजस्थान रॉयल्स को लगा बड़ा झटका, पूरे सीजन के लिये बाहर हुए जोफ्रा आर्चर

भले ही आईसीसी इस नियम को बदलने के प्रस्ताव पर अभी विचार कर रहा हो लेकिन दुनिया की सबसे मशहूर टी20 लीग आईपीएल में सॉफ्ट सिग्नल को लेकर बीसीसीआई ने बड़ा फैसला ले लिया है। न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार आईपीएल के 14वें सीजन में बीसीसीआई ने किसी भी तरह के सॉफ्ट सिग्नल को अलविदा कह दिया है।

IND vs ENG: माइकल वॉन ने भारतीय टीम को दी चेतावनी, कहा- ऐसा रहा तो हाथ से निकल जायेगा विश्व कप

नहीं रहेगा सॉफ्ट सिग्नल का नियम

नहीं रहेगा सॉफ्ट सिग्नल का नियम

आईपीएल 2021 के लिये जारी किये गये नियमों में बीसीसीआई ने सॉफ्ट सिग्नल के नियम को अपडेट कर दिया है और साफ-साफ लिखा है कि अगर किसी फैसले के लिये मैदानी अंपायर को थर्ड अंपायर का सहारा लेना पड़ता है तो उस केस में किसी भी तरह का सॉफ्ट सिग्नल नहीं लिया जायेगा। इसको लेकर थर्ड अंपायर ही पूरी तरह से फैसला सुनायेगा। आईपीएल की नियमावली के एपेंडिक्स डी के 2.2.2 नियम के तहत यह बदलाव किया है जो कि आईपीएल के 13 वें सीजन तक शामिल नहीं किया गया था।

इसमें लिखा है कि,' आईपीएल 2021 के दौरान सॉफ्ट सिग्नल- तीसरे अंपायर की ओर फैसले के लिये रुख करते हुए सॉफ्ट सिग्नल नियम लागू नहीं होगा।'

जानें क्यों लिया गया सॉफ्ट सिग्नल हटाने का फैसला

जानें क्यों लिया गया सॉफ्ट सिग्नल हटाने का फैसला

गौरतलब है कि आईपीएल 2021 की नियमावली से सॉफ्ट सिग्नल को हटाने का फैसला हाल में हुए विवादों के बाद लिया गया है, साथ ही तीसरे अंपायर के पास मौजूद तकनीक का बेहतर इस्तेमाल कर खिलाड़ी के पक्ष में सही निर्णय लिया जा सके इसको लेकर किया गया है। न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि यह फैसला मैदान अंपायर और थर्ड अंपायर के बीच लिये जाने वाले फैसलों में कन्फ्यूजन की स्थिति पैदा होने से बचाने के लिये लिया गया है।

उन्होंने कहा,' सॉफ्ट सिग्नल को लेकर कई ऐसे मामले सामने आये हैं जिसमें कन्फ्यूजन की स्थिति में होने के चलते मैदानी अंपायर के फैसले के साथ जाना पड़ता है। ऐसे में तीसरे अंपायर के निर्णय को अधिक स्पष्टता देने के लिये सॉफ्ट कॉल को हटाने का फैसला लिया गया है, ताकि अगर मैदानी अंपायर को कन्फ्यूजन हो तो थर्ड अंपायर बेहतर तरीके से अपना फैसला दे सके।'

शॉर्ट रन पर भी थर्ड अंपायर लेंगे फैसला

शॉर्ट रन पर भी थर्ड अंपायर लेंगे फैसला

इतना ही नहीं आईपीएल 2021 के नियमों में एक और बड़ा बदलाव किया गया है। इस सीजन थर्ड अंंपायर नो बॉल के साथ-साथ शॉर्ट रन को लेकर फैसले भी खुद ही देने का काम करते नजर आयेंगे। अगर मैदान पर कोई शॉर्ट रन का फैसला मैदानी अंपायर नहीं दे पाता है तो उसे तीसरा अंपायर चेक करने के बाद बदलने की शक्ति रखता है।

आपको बता दें कि आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल ने शॉर्ट रन को लेकर यह बदलाव पिछले साल पंजाब किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच हुए पहले मैच के बाद उपजे विवाद को लेकर किया है। इस मैच में शॉर्ट रन विवाद के चलते मैच सुपरओवर में पहुंच गया था, जिसमें पंजाब को हार का सामना करना पड़ा था। बाद में सिर्फ एक हार की वजह से पंजाब की टीम प्लेऑफ में क्वालिफाई नहीं कर पायी थी जिसको लेकर पंजाब की टीम ने अपनी शिकायत दर्ज कराई थी।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, March 27, 2021, 22:36 [IST]
Other articles published on Mar 27, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X