चामिंडा वास ने तीसरे दिन ही छोड़ा गेंदबाजी कोच का पद, श्रीलंकाई बोर्ड ने लगाया बड़ा आरोप

chaminda vaas
Photo Credit: ICC/twitter

Chaminda vaas resigns from Srilanka bowling Coach post ahead of West Indies Tour Know Why: नई दिल्ली। श्रीलंका की क्रिकेट टीम के सबसे शानदार गेंदबाजों में से एक रहे चामिंडा वास ने 3 दिन पहले ही वेस्टइंडीज दौरे से पहले टीम के गेंदबाजी कोच के रूप में पद संभाला था, हालांकि वेस्टइंडीज दौरे से ठीक पहले इस दिग्गज खिलाड़ी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। वेस्टइंडीज दौरे के लिये श्रीलंकाई टीम को सोमवार की रात को निकलना था और चामिंडा वास ने सोमवार को ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। किसी भी बोर्ड के इतिहास में बॉलिंग कोच के पद पर रहने के लिये यह शायद सबसे छोटा कार्यकाल होगा। चामिंडा वास के इस्तीफा देने के पीछे बोर्ड और खिलाड़ी के बीच पैसों को लेकर करार में सहमति नहीं बन पाने को कारण बताया जा रहा है।

वहीं श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने चामिंडा वास के इस्तीफा देने के बाद बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि यह दिग्गज खिलाड़ी बोर्ड से फिरौती मांग रहा था और उनकी ओर से ऐसा करना काफी निराशाजनक है। बोर्ड ने इसको लेकर एक प्रेस रिलीज भी जारी की है जिसमें उन्होंने साफ किया है कि चामिंडा वास श्रीलंका क्रिकेट संघ से लगातार अपना भत्ता बढ़ाने की जिद पर डटे हुए थे जिसे बोर्ड की ओर से मंजूरी न मिलने पर उन्होंने इस्तीफा दे दिया।

IND vs ENG: क्या विराट कोहली के लिये लकी साबित होगा मोटेरा स्टेडियम, खत्म हो सकेगा शतक का सूखा

प्रेस रिलीज के अनुसार,' पूर्व तेज गेंदबाज और मौजूदा गेंदबाजी कोच चामिंडा वास ने टीम के साथ अपने बॉलिंग कोच के पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने बोर्ड को सूचित किया है कि वह वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के लिये सपोर्ट स्टाफ की भूमिका में शामिल नहीं हो सकेंगे। उनका यह इस्तीफा दौरे पर रवाना होने से कुछ घंटे पहले ही आया है।'

बोर्ड ने अपनी रिलीज में चामिंडा वास के इस कदम को मुश्किल और दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि उन्होंने मुश्किल आर्थिक वक्त के बीच सैलरी बढ़ाने की जिद की और पूरा न होने पर यह गैर जिम्मेदाराना कदम उठाया।

IND vs ENG: अहमदाबाद में धोनी को पीछे छोड़ सकते हैं कोहली, पिंक बॉल टेस्ट में नाम करेंगे बड़ा रिकॉर्ड

उन्होंने आगे कहा,'चामिंडा वास देश के सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक हैं और देश के लिये खेलते हुए उन्होंने काफी कुछ हासिल किया, लेकिन मुश्किल समय में उनकी ओर से ऐसा कदम उठाना काफी निराशाजनक रहा है। ऐसे हालात में उनका इस्तीफा किसी फिरौती की तरह प्रतीत होता है। वास बोर्ड की ओर से अनुबंधित कर्मचारी हैं लेकिन इसके बावजूद उन्होंने सैलरी बढ़ाने की अनुचित मांग की जिसे बोर्ड ने मानने से इंकार कर दिया। उन्हें पहले ही अनुभव और योग्यता के हिसाब से अच्छा पैसा मिल रहा था।'

आपको बता दें कि बोर्ड की ओर से लगाये गये इन आरोपों पर वास की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Monday, February 22, 2021, 21:37 [IST]
Other articles published on Feb 22, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X