IND vs ENG: क्या विराट कोहली के लिये लकी साबित होगा मोटेरा स्टेडियम, खत्म हो सकेगा शतक का सूखा

India vs England Virat Kohli's unusual century drought in Tests Will it End at Motera stadium Ahmedabad: नई दिल्ली। विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के तहत भारत और इंग्लैंड के बीच जारी 4 मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में खेला जाना है जो कि पुनर्निमाण के बाद खेला जाने वाला पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच होगा। 24 फरवरी से खेले जाने वाले इस मैच का आयोजन पिंक बॉल से डे-नाइट प्रारूप में खेला जायेगा। टेस्ट चैम्पियनशिप और सीरीज के नतीजे के हिसाब से यह मैच काफी अहम साबित होने वाला है तो वहीं पर फैन्स के लिये भी यह मैदान काफी अलग होने वाला है। दुनिया के सबसे आधुनिक सुविधाओं से लैस यह स्टेडियम कई मामलों में अलग है तो ऐसे में फैन्स को उम्मीद है कि पिछली 10 पारियों से शतक का इंतजार कर रहे विराट कोहली के लिये शायद यह मैदान लकी साबित हो।

विराट कोहली के करियर में यह दूसरी बार हुआ है जब उनके बल्ले से शतक निकलने के लिये इतनी पारियों का इंतजार करना पड़ा है। इससे पहले 2014 के दौरान विराट कोहली को 13 पारियों का इंतजार करना पड़ा था शतकीय पारी खेलने के लिये। ऐसे में नये मैदान पर विराट कोहली को भी शतकीय पारी खेलने का इंतजार है।

IPL 2021: धोनी के लिये आईपीएल जीतना चाहते हैं रॉबिन उथप्पा, जानें क्या कहा

पहले मैच में कोहली ने दूसरी पारी में 62 रन तो दूसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में 74 रनों की पारी खेली थी, हालांकि वो शतक के सूखे को खत्म करने में नाकाम रहे थे। टेस्ट करियर की शुरुआत में विराट कोहली के बल्ले से रन नहीं निकल रहे थे लेकिन कप्तानी संभालने के बाद कोहली ने न सिर्फ घरेलू सरजमीं पर बल्कि विदेशी सरजमीं पर भी जमकर रनों की बरसात की थी।

विराट कोहली ने आखिरी बार बांग्लादेश के खिलाफ पिंक बॉल टेस्ट में 136 रनों की शतकीय पारी खेली थी। वहीं उससे पहले कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दोहरा शतक लगाते हुए 254 रनों की पारी खेली थी, जिसके बाद सभी को उम्मीद थी कि वो न्यूजीलैंड दौरे पर जमकर रन बरसायेंगे। हालांकि 2020 में हुए इस दौरे पर विराट कोहली 4 पारियों में सिर्फ 38 रन ही बना सके। वहीं ऑस्ट्रेलिया दौरे पर खेले गये पहले मैच में कोहली शानदार फॉर्म में नजर आ रहे थे और शतक की ओर बढ़ते हुए नजर आ रहे थे लेकिन उपकप्तान अजिंक्य रहाणे की गलती के चलते रन आउट होकर लौटे और 75 रन ही बना सके।

IND vs ENG: स्पिनर्स या पेसर्स, मोटेरा स्टेडियम में किसका रहेगा बोलबाला, जानें क्या कहते हैं आकंड़े

आपको बता दें कि विराट कोहली सिर्फ टेस्ट ही नहीं बल्कि वनडे प्रारूप में भी 2019 के बाद शतक नहीं लगा सके हैं। वह 2019 के बाद से खेली 21 पारियों में 7 बार दहाई के आंकड़े को पार नहीं कर सके हैं, जबकि पूरे टेस्ट करियर में 11 बार जीरो पर आउट हुए कोहली के 3 डक सिर्फ इस बीच आये हैं।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Monday, February 22, 2021, 21:07 [IST]
Other articles published on Feb 22, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X