'किसी ने मुझसे पूछा, क्या हेडिंग्ले टेस्ट ईशांत शर्मा का अंतिम मैच है? मैं हैरान रह गया'

नई दिल्लीः इसमें कोई शक नहीं है कि ईशांत शर्मा हेडिंग्ले में हुए तीसरे टेस्ट मुकाबले में भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की सबसे कमजोर कड़ी थे। दुखद बात यह है कि इतना अनुभवी गेंदबाज नौसिखिये की तरह बॉलिंग कर रहा था और इंग्लैंड के बल्लेबाजों का काम आसान हो रहा था। इंग्लिश बल्लेबाजों ने जब मन चाहा तब ईशांत पर रन बटोरे और भारतीय बॉलिंग को बहुत छोटा साबित कर दिया।

इसके बाद ईशांत शर्मा की आलोचना होना लाजमी था और कई लोगों ने अगले टेस्ट मैच में उनके स्थान पर रविचंद्रन अश्विन को लेने की पैरवी की है। नासिर हुसैन जैसे क्रिकेट विश्लेषक तो यह भी कह चुके हैं कि भारत को हेडिंग्ले में भी ईशांत शर्मा के स्थान पर रविचंद्रन अश्विन को ही लेकर उतरना चाहिए था।

ईशांत शर्मा की इतनी आलोचना क्यों हो गई?

ईशांत शर्मा की इतनी आलोचना क्यों हो गई?

इसी बीच भारत के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा इस बात से हैरान है कि ईशांत शर्मा की इतनी आलोचना क्यों हो गई है। 100 से ज्यादा टेस्ट मैच खेल चुके ईशांत शर्मा ने एक खराब मुकाबला क्या खेल लिया कि लोग उनकी बुराई करने लगे? ऐसा आशीष नेहरा का मानना है।

22 ओवर में 92 रन देने वाले ईशांत शर्मा में आशीष नेहरा को किसी तरह की कोई खामी नजर नहीं आती है। पहले तो यह भी कयास लगाए जा रहे थे कि शायद ईशांत फिट नहीं थे क्योंकि अपनी फिटनेस में रहकर तो वे हमेशा अच्छी गेंदबाजी करते हैं लेकिन विराट कोहली और मोहम्मद शमी ने साफ कर दिया था कि शर्मा की फिटनेस्ट भी बिल्कुल दुरुस्त थी। उसके बावजूद भी यह अनुभवी गेंदबाज ऐसी लड़खड़ाती हुई गेंदबाजी करता रहा कि लोग कुछ और ही सोचने पर मजबूर होते गए।

किसी ने मुझसे पूछा किया हेडिंग्ले में ईशान का अंतिम टेस्ट है- नेहरा

किसी ने मुझसे पूछा किया हेडिंग्ले में ईशान का अंतिम टेस्ट है- नेहरा

अब आशीष नेहरा दुख प्रकट कर रहे हैं कि ईशांत को लेकर ऐसा क्यों कहा जा रहा है और वह कहते हैं यह ईशांत शर्मा के ऊपर ज्यादती है। वे कहते हैं, "क्या हम केवल एक टेस्ट मैच के प्रदर्शन पर ही उनकी जगह को लेकर सवाल उठाना शुरू कर देंगे? किसी ने मुझसे पूछा कि हेडिंग्ले टेस्ट ईशान शर्मा का अंतिम मुकाबला है? मैं हैरान रह गया कि किसी ने मुझसे यह सवाल कैसे पूछ लिया?"

आशीष नेहरा ने यह बात सोनी स्पोर्ट्स नेटवर्क पर आयोजित एक प्रोग्राम में कहीं जोकि गुरुवार को द ओवल में शुरू हो रहे चौथे टेस्ट मुकाबले से पहले चल रहा था। भारत के लिए 17 टेस्ट मैच, 120 वन डे इंटरनेशनल और 27 T20 इंटरनेशनल मुकाबले खेलने वाले आशीष नेहरा कहते हैं कि ईशांत शर्मा पर एक खराब गेम के चलते सवाल उठाना ही नहीं चाहिए।

माइकल वॉन ने कहा- 'वो सबसे खराब भारतीय बॉलर था', भारत की रणनीति पर उठाए सवाल

नेहरा कहते हैं- ईशांत की वजह से तो हम हारे ही नहीं

नेहरा कहते हैं- ईशांत की वजह से तो हम हारे ही नहीं

ईशांत शर्मा को एक बहुत बड़ा गेंदबाज मानते हुए नेहरा आगे कहते हैं, "आप ईशांत शर्मा जैसे गेंदबाज को केवल एक गेम परफॉर्मेंस के आधार पर जज नहीं कर सकते। हां, हमारे पास चार-पांच अच्छे बॉलर है जो की कंपटीशन में मौजूद है लेकिन आप हर एक टेस्ट मैच में अलग-अलग गेंदबाज नहीं देखना चाहते।"

आशीष नेहरा इस बात के खिलाफ हैं कि हेडिंग्ले के बाद ईशांत शर्मा को यूं बाहर कर दिया जाए, बावजूद बावजूद इसके कि भारतीय टीम के पास शार्दुल ठाकुर और रविचंद्रन अश्विन जैसे गेंदबाज बेंच पर बैठे हों। ईशांत शर्मा के शहर दिल्ली से ताल्लुक रखने वाले आशीष नेहरा आगे कहते हैं कि भारत हेडिंग्ले टेस्ट मैच ईशांत शर्मा की वजह से हारा ही नहीं था। हालांकि वे कम से कम इतना तो मानते हैं कि ईशांत अपनी बोलिंग के बेस्ट पर नहीं थे लेकिन उनके पास ऐसा अनुभव है जो मैच को पलट सकता है।

नेहरा जी यह बताएं, अश्विन को ईशांत की जगह लिया जाए?

नेहरा जी यह बताएं, अश्विन को ईशांत की जगह लिया जाए?

नेहरा यह भी कह देते हैं कि अगर ईशांत ने नो-बॉल की है तो जसप्रीत बुमराह और रविंद्र जडेजा ने भी तो की है। वे कहते हैं, "हम टेस्ट मैच हार गए तो इसके बारे में और ज्यादा बातें कर रहे हैं। ईशांत शर्मा की वजह से हम मैच हारे ही नहीं है। हमें भूलना नहीं चाहिए कि पहले टेस्ट मैच से पूर्व उनको हल्की चोट लगी थी और दूसरे मुकाबले में भी जब वे आए तो बहुत अच्छे नहीं थे लेकिन अनुभव के दम पर उन्होंने वापसी की और उनका लॉर्ड्स टेस्ट मैच अच्छा रहा।"

आशीष नेहरा को लगता है कि अगर रविचंद्रन अश्विन वापस आते हैं तो केवल ईशांत शर्मा पर ही तलवार नहीं है बल्कि मोहम्मद सिराज का भी नंबर लग सकता है। इन दोनों से में कोई एक अश्विन के लिए बाहर जाना चाहिए। वे कहते हैं, "ओवल की परिस्थितियां कुछ ऐसी है कि शायद हम लोग रविचंद्रन अश्विन को टीम में जगह दे दे और एक तेज गेंदबाज को बाहर निकाल दें। ऐसे में देखा जाएगा कि यह ईशांत शर्मा होंगे या फिर मोहम्मद सिराज।"

जहां तक पांच मैचों की सीरीज का सवाल है तो तीन मैच हो चुके हैं- पहला मुकाबला ड्रा रहा था, दूसरा भारत ने जीता और तीसरे मैच में शर्मनाक तरीके से भारतीयों को एक पारी और 76 रनों से हार मिली थी जिसके चलते अब यह सीरीज बराबरी पर है और इंग्लैंड की मजबूत वापसी भी हो चुकी है।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 भविष्यवाणी
Match 19 - October 26 2021, 07:30 PM
पाकिस्तान
न्यूजीलैंड
Predict Now

Story first published: Wednesday, September 1, 2021, 13:05 [IST]
Other articles published on Sep 1, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X