Flashback 2020 : इस साल IPL में इन 5 बल्लेबाजों ने किया निराश, लिस्ट में 3 भारतीय

Flashback 2020 - स्पोर्ट्स डेस्क(नोएडा)। साल 2008 में बीसीसीआई ने आईपीएल टूर्नामेंट (IPL Tournament) की शुरूआत की थी, जिसमें देश-विदशों के खिलाड़ी भाग लेते हैं। यह टूर्नामेंट इतना लोकप्रिय हो चुका है कि हर खिलाड़ी इसका हिस्सा बनने के लिए पूरा जोर लगाता है। कारण है इसके जरिए नई पहचना मिला, साथ में मोटा पैसा। इस साल कोरोना का कहर रहा, जिसने क्रिकेट को प्रभावित किया। लेकिन फिर भी बीसीसीआई (BCCI) ने सीजन-13 करवाने का फैसला लिया जो फिर यूएई (UAE) में करवाया गया। साल 2020 यूं तो आम लोगों के लिए भी आसान नहीं रहा, लेकिन कुछ क्रिकेटरों ने जरूर नाम कमाया। हालांकि कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे जिन्होंने 2020 में हुए आईपीएल में सबको निराश किया। ऐसे में आज हम आपको उन 5 क्रिकेटरों के बारे में बताएंगे जिन्होंने इस साल हुए आईपीएल में निराश किया।

Flashback 2020 : टाॅप-3 भारतीय बल्लेबाज, जिन्होंने T-20 में लगाए सबसे ज्यादा छक्केFlashback 2020 : टाॅप-3 भारतीय बल्लेबाज, जिन्होंने T-20 में लगाए सबसे ज्यादा छक्के

1. केदार जाधव

1. केदार जाधव

चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाज केदार जाधव आईपीएल 2020 (IPL 2020) में सबसे फिसड्डी साबित हुए हैं। उनका प्रदर्शन इतना खराब रहा कि उनके लिए अब राष्ट्रीय टीम में जगह बना पाना भी मुश्किल नजर आ रहा है। जाधव ने चेन्नई की तरफ से खेलते हुए 8 मैचों में, उन्होंने 20.66 के औसत और 93.93 के स्ट्राइक रेट से सिर्फ 62 रन बनाए। हैरानी भरी बात यह रही कि वो किसी एक मैच में 30 रनों का आंकड़ा भी नहीं छू सके। उनका सर्वोच्च स्कोर सिर्फ 26 रहा।

2. दिनेश कार्तिक

2. दिनेश कार्तिक

कोलकाता नाइट राइडर्स के दिनेश कार्तिक भी फ्लाॅप रहे बल्लेबाजों में से एक रहे हैं। उनके लिए यह साल निराशा भरा रहा है। अगर उनका बल्ला आईपीएल में गजरता तो उनके लिए आगामी टी20 विश्व कप के लिए रास्ते खुल सकते थे, लेकिन अब ऐसी उम्मीद करना गलत होगा, क्योंकि उनका प्रदर्शन बेहद खराब रहा। कार्तिक ना सिर्फ बल्ले से बल्कि कप्तानी में भी फ्लाॅप रहे। लिहाजा बीच में इयोन मोर्गन को कप्तानी साैंपनी पड़ी। उन्होंने 14 मैचों में 14.08 की औसत और 126.11 की स्ट्राइक रेट से 169 रन बनाए। उनके नाम सिर्फ एक अर्धशतक रहा, जबकि तीन बार वह शून्य पर ही आउट हो गए थे।

आकाश चोपड़ा ने चुनी दशक की बेस्ट ODI टीम, डेविड वार्नर को किया बाहर

3. शिमरोन हेटमायर

3. शिमरोन हेटमायर

वैसे तो विंडीज क्रिकेटर तूफानी पारियां खेलने के लिए जाने जाते हैं, लेकिन जिस तरह से शिमरोन हेटमायर ने खेल दिखाया वो बेहद खराब था। दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेलने वाले हेटमायर फाइनल में भी फ्लाॅप रहे जिस कारण टीम मुंबई इंडियस के हाथों हार गई थी। वह फाइनल में अहम मैच में 5 रन ही बना सके। वह किसी भी गेंदबाज को पसीना बहाने की ताकत रखते हैं, लेकिन 23 साल ये खिलाड़ी उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा। उन्होंने 12 मैचों में केवल 185 रन बनाए। इसमें औसतन 23.12 और स्ट्राइक रेट 148 है। वह एक भी अर्धशतक भी नहीं लगा सके।

4. ग्लेन मैक्सवेल

4. ग्लेन मैक्सवेल

ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने भारत के खिलाफ हाल ही में हुई तीन वनडे मैचों में विस्फोटक खेल दिखाया, लेकिन इनके लिए इस साल हुए आईपीएल में गुजरा समय बेहद खराब रहा। उनको किंग्स इलेवन पंजाब ने 10.75 करोड़ रूपए में अपने साथ जोड़ा था। लेकिन पूरे सीजन में इस खिलाड़ी ना बल्ला चला ना गेंदबाजी में धार दिखी। उन्होंने 13 मैचों में 15.62 के औसत और 101.88 के स्ट्राइक रेट से सिर्फ 108 रन बनाए हैं। वह पूरे टूर्नामेंट में एक बार 30 का आंकड़ा पार करने में सफल रहे। उनका उच्चतम स्कोर 32 था।

5. एमएस धोनी

5. एमएस धोनी

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी इस साल हुए आईपीएल में खास नहीं कर सके। उन्होंने इस साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेकर भी फैंस को झटका दिया। आईपीएल के इतिहास में पहली बार अंतिम 4 में जगह नहीं बना सकी। धोनी ने 14 मैचों में सिर्फ 200 रन बनाए। उनका औसत स्कोर 25 और स्ट्राइक रेट 116.27 है। उनके फ्लाॅप होने का एक कारण यह भी था कि वो करीब 14 महीने बाद मैदान पर लाैट थे। आईपीएल से पहले धोनी इंग्लैंड में 2019 में हुए आईसीसी वनडे विश्व कप में खेलते हुए नजर आए थे।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Friday, December 18, 2020, 19:23 [IST]
Other articles published on Dec 18, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X