ये रही साल 2021 में भारत की 'बेस्ट वनडे इलेवन', जानिए काैन हैं शामिल

नई दिल्ली। टीम इंडिया के लिए 2021 शानदार साल रहा है। टी20 विश्व कप की हार को छोड़कर भारतीय टीम ने सभी प्रारूपों में प्रचंड सफलता पाई। विशेष रूप से टेस्ट क्रिकेट में, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड दोनों को उनके घर में हराकर भारत ने सबको दिखा दिया कि आखिर क्यों उन्हें दुनिया की सबसे खतरनाक टीम माना जाता है। हालांकि, सबसे लंबे और सबसे छोटे प्रारूप के बीच टीम इंडिया ने कुछ शानदार 50 ओवर का क्रिकेट भी खेला। खिलाड़ियों ने न केवल इंग्लैंड के खिलाफ एक कठिन घरेलू वनडे सीरीज जीती, बल्कि श्रीलंका को श्रीलंका में भी हराया। अनुभव और युवाओं के मिश्रण में खुद को मिलाकर टीम इंडिया ने 2021 में वनडे मैच खेलना पूरी तरह से पसंद किया। ऐसे में आइए जानें कि साल 2021 में टीम इंडिया की बेस्ट वनडे इलेवन कैसी है-

यह भी पढ़ें- IND vs SA : टेस्ट सीरीज के दाैरान इन 5 भारतीय खिलाड़ियों पर रहेगी सबकी नजर

1. शिखर धवन

1. शिखर धवन

शिखर धवन के लिए वनडे क्रिकेट हमेशा से उनकी बड़ी राहत रहा है। विराट कोहली और रोहित शर्मा के बाद वर्तमान में क्रिकेटर भारत के लिए सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं, जिन्होंने 17 शतक बनाए हैं। कैलेंडर वर्ष 2021 में, अन्य सलामी बल्लेबाजों से कड़ी प्रतिस्पर्धा मिलने के बावजूद, धवन वनडे मैचों में टीम इंडिया के सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे। इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में वापसी करते हुए धवन ने शानदार 98 रन बनाए थे, जिसके बाद निर्णायक मैच में एक और पचास से अधिक का स्कोर किया। श्रीलंका में टीम की कप्तानी करते हुए धवन ने पहले मैच में नाबाद 86 रनों की जोरदार पारी खेली। कुल मिलाकर, 36 वर्षीय धवन ने सभी छह एकदिवसीय मैच खेले हैं, जिसमें 59.4 की औसत से 297 रन बनाए।

2. केएल राहुल

टेस्ट क्रिकेट और टी20आई में केएल राहुल ओपनिंग करते दिखते हैं, वहीं वनडे में उन्हें मध्यक्रम के बल्लेबाज के रूप में देखा गया। पूरे 2021 में राहुल ने इंग्लैंड के खिलाफ 3 मैचों की घरेलू वनडे सीरीज खेली है और इस फाॅर्मेट में इस साल शतक लगाने वाले भारत के एकमात्र बल्लेबाज भी हैं। राहुल ने इस साल 3 वनडे मैच खेले हैं, जिसमें एक नाबाद 62 रनों की पारी शामिल है तो एक 108 रनों की पारी शामिल है। राहुल ने इस साल 88.5 की औसत से कुल 177 रन बनाए हैं।

3. विराट कोहली

2021 विराट कोहली के लिए कुछ खास नहीं रहा है। 33 वर्षीय कोली ने न केवल सीमित ओवरों की कप्तानी छोड़ दी है, बल्कि अपने 71वें शतक की भी कड़ी तलाश कर रहे हैं। हालांकि इन सबके बीच किंग कोहली ने अब भी वनडे इलेवन में अपनी जगह बरकरार रखी है। अपने अधिकांश साथियों की तरह, विराट ने भी 2021 में केवल तीन वनडे मैच खेले हैं। इंग्लैंड की घरेलू सीरीज में बल्लेबाज ने दो बार एक के बाद एक पचास से अधिक स्कोर (56 और 66) बनाए, लेकिन तीन अंकों का स्कोर बनाने में असमर्थ रहे। अपने स्ट्राइक रेट के मामले में, हालांकि किंग कोहली वनडे मैचों में भारी हैं, लेकिन उनके बल्ले से कुल 10 चौके ही निकले। कुल मिलाकर, उन्होंने 2021 वनडे मैचों में 43 की औसत से 129 रन बनाए।

4. सूर्यकुमार यादव

सूर्यकुमार यादव के लिए 2021 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खास बन गया है। क्रिकेटर, 2020 के अंत में नजरअंदाज किए जाने के बाद, अंततः इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू T20I सीरीज में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया। हालांकि, वनडे मैचों में उनकी उपस्थिति थोड़ी देर से शुरू हुई जब भारत ने जुलाई 2021 में श्रीलंका का दौरा किया। उस सीरीज में मध्यक्रम की अगुवाई करके, यादव ने श्रीलंका के स्पिनरों को अपनी क्लास बैटिंग से उड़ा दिया था। अपने पहले दो मैचों में,30 वर्षीय यादव ने नाबाद 31 और एक प्रभावशाली अर्धशतक बनाया। यहां तक कि अपने स्ट्राइक रेट के मामले में भी, बल्लेबाज ने 120.85 की दर से 18 चौके मारे। कुल मिलाकर, अपनी पहली वनजे सीरीज में उन्होंने न केवल 62 की औसत से कुल 124 रन बनाए, बल्कि अपना पहला मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार भी प्राप्त किया।

5. ऋषभ पंत

5. ऋषभ पंत

इसमें कोई संदेह नहीं है कि ऋषभ पंत के लिए वर्ष 2021 ने उन्हें कई अवसरों की पेशकश की है। चाहे वह अब सबसे लंबा प्रारूप हो या सबसे छोटा प्रारूप या यहां तक कि वनडे भी, पंत ने सभी प्रारूपों के फ्रंटलाइन ग्लवमैन के रूप में खुद को मजबूत किया है। जहां टेस्ट क्रिकेट और T20I मैच उन्हें इस साल खूब खेलने को मिले तो वहीं ODI में उन्हें 2021 में केवल दो मैच खेलने को मिले। पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के दूसरे और तीसरे वनडे मैच में दो बैक टू बैक 70 से अधिक स्कोर बनाए। उन्होंने 159.15 की औसत स्ट्राइक रेट से रन बनाए। उन्होंने दो बड़ी पारियों में आठ चौके और 11 छक्के लगाए।

6. क्रुणाल पांड्या

क्रुणाल पांड्या के लिए 2021 में वनडे मैचों ने उन्हें अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को पुनर्जीवित करने में काफी मदद की। चोटिल रवींद्र जडेजा के लिए चुने गए ऑलराउंडर ने बल्ले से शानदार प्रदर्शन किया। सीनियर पांड्या को जितने भी मौके मिले, ऑलराउंडर ने उसे मजबूती से भुनाया। सबसे पहले इंग्लैंड की घरेलू वनडे सीरीज में, क्रुणाल ने तुरंत 31 गेंदों में नाबाद 58 रनों की विस्फोटक पारी खेली। श्रीलंका में भी, जब 30 वर्षीय क्रुणाल ने सिर्फ एक बार बल्लेबाजी की तो कुणाल ने दूसरे वनडे में 35 रनों का बहुमूल्य योगदान दिया। हालांकि, दुख की बात है कि जब गेंद के साथ प्रदर्शन करने की बात आती है, तो कुणाल अपने पांच मैचों में सिर्फ दो विकेट ही ले सके। कुल मिलाकर, क्रुणाल ने 2021 वनडे मैचों में 65 की औसत से 130 रन बनाए हैं।

7. हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या के लिए साल 2021 मुश्किल भरा रहा, लेकिन फिर भी उन्होंने साल की वनडे प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने में सफलता पाई है। पांड्या ने 2021 में सभी छह वनडे मैच खेले। बल्ले से हार्दिक ने पांच मैचों में लगभग 23 की औसत से कुल 119 रन बनाए। उन्होंने गेंदबाजी में 6.4 की इकॉनमी से केवल 2 विकेट हासिल किए। कुल मिलाकर, इंग्लैंड के खिलाफ उनकी दो तेज-तर्रार पारियां (35 और 64) 2021 में उनके सीमित ओवरों के करियर की सर्वोच्च रही हैं।

8. शार्दुल ठाकुर

शार्दुल ठाकुर के लिए साल 2021 उनके करियर का प्राइमटाइम बन गया है। साल 2021 में शार्दुल न 23. 3 ओवर फेंके हैं जिसमें 7 विकेट निकाले हैं। साथ ही उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 67 रन देकर 4 विकेट रहा। इसके अलावा बल्लेबाजी में शार्दुल ने 3 मैचों में 30 रन बनाए। उन्हें एक में बल्लेबाजी करने का माैका नहीं मिला तो एक में जीरो रन बनाकर नाबाद रहे। वहीं तीसरे मचै में उन्होंने 21 गेंदों में नाबाद 30 रन बनाए थे।

9. दीपक चाहर

9. दीपक चाहर

2019 में गंभीर चोट का सामना करने के बाद, दीपक चाहर के लिए वर्ष 2020 का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं हुआ। शार्दुल ठाकुर और यहां तक कि नवदीप सैनी को भी उनसे आगे देखा गया। यहां तक ​​कि आईपीएल 2020 में सीएसके के लिए, पेसर का सीजन अच्छा नहीं रहा, जहां उन्होंने 14 मैचों में 12 विकेट लिए। हालांकि, जब भारत की विस्तारित टीम ने ODI और T20I के लिए श्रीलंका का दाैरा किया तो गेंदबाज ने सही खेल दिखाया। 29 वर्षीय चाहर ने अपने 2 मैचों में 5.95 की इकॉनमी से कुल 4 विकेट लिए। हालांकि, उनके प्रस्ताव की सबसे बड़ी पहचान कोलंबो में दूसरे वनडे मैच में नाबाद 69 रनों की मैच विजेता पारी थी।

10. भुवनेश्वर कुमार

भुवनेश्वर कुमार के लिए 2021 फिर से चोटों के कारण चिंतासे भरा हुआ था। आईपीएल के पहले भाग के दौरान भुवनेश्वर को खेल से गायब देखा गया था और वह अपनी पूरी फिटनेस से दूर थे। हालांकि, जब वनडे मैचों की बात आती है, तो पेसर आसानी से टीम का हिस्सा थे। इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में 31 वर्षीय भुवनेश्वर ने 4.61 की इकोनाॅमी से कुल छह विकेट लिए। श्रीलंकाई श्रृंखला में भी उन्होंने 6.2 की इकॉनमी से दो मैचों में तीन और विकेट हासिल करके अपनी महानता दिखाई थी। भुवनेश्वर ने 2021 वनडे मैचों में अपने पांच मैचों में कुल नौ विकेट लिए हैं।

11. युजवेंद्र चहल

स्पिन युजवेंद्र चहल ने भी इस साल वनडे की प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने में सफलता पाई है। चहल ने इस साल दो वनडे मैच खेले, जिसमें 5 पांच विकेट हासिल किए। उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ ही दोनो ये मैच खेले। पहले मैच में 52 रन देकर 2 विकेट लिए तो दूसरे मैच में 50 रन देकर 3 विकेट चहल ने अपने नाम किए।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Read more about: odi flashback 2021
Story first published: Friday, December 24, 2021, 19:48 [IST]
Other articles published on Dec 24, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X