IND vs AUS: बेंगलुरु में फाइनल मुकाबला, इस प्लेइंग 11 के साथ उतर सकता है भारत

नई दिल्ली: भारतीय टीम रविवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 मैचों की वनडे सीरीज का अंतिम मुकाबला खेलने के लिए बेंगलुरु में उतरेगी। यह सीरीज अब तक काफी रोमांचक रही है जिसमें दोनों टीमों ने एक-एक मुकाबले में जीत दर्ज की है। अब तीसरा मैच सीरीज का भाग्य तय कर देगा।

भारत ने पहले मैच में जहां 10 विकेट से हार का सामना किया तो वहीं दूसरे मैच में उसको 38 रनों की जीत मिली। तीसरे वनडे तक आते-आते दोनों टीमों के पास लय है और यह मैच हाई वोल्टेज होने में कोई शक बाकी नहीं है।

ऐसे में आइए देखते हैं कि भारत इस मुकाबले में किस प्लेइंग इलेवन के साथ उतर सकता है-

रोहित शर्मा और शिखर धवन

रोहित शर्मा और शिखर धवन

पिछले मैच में रोहित शर्मा ने 42 रनों की पारी खेली थी जबकि उससे पहले मैच में भी उनका बल्ला शांत रहा था ऐसे में रोहित अगर इस मैच में अपनी एक बड़ी पारी खेल दें तो आश्चर्य नहीं होगा क्योंकि वे हाल में ही प्रचंड फार्म में रहे हैं और एक ब्रेक के बाद इस सीरीज में वापसी के साथ ही वे दोबारा उसी फार्म को हासिल करना चाहेंगे।

शिखर धवन

धवन की स्थिति इस समय मजबूत नजर आने लगी है। चोट के बाद और राहुल की फार्म के चलते धवन के ऊपर जबरदस्त था लेकिन धवन ने दिखाया है कि एक इंटरनेशनल खिलाड़ी ऐसी चीजों से कैसे बखूबी निकलता है। धवन ने पिछले मैच में 90 गेंदों पर 96 रनों की पारी खेली थी। वे अंतिम मैच में भी अपनी लय को बरकरार रखना चाहेंगे।

तमीम इकबाल की वापसी, पाकिस्तान के खिलाफ बांग्लादेश की टी20 टीम घोषित

नंबर 3 पर कोहली, 5 पर राहलु वाला मीडिल ऑर्डर

नंबर 3 पर कोहली, 5 पर राहलु वाला मीडिल ऑर्डर

विराट कोहली

कोहली ने पहले मैच में प्रयोग करने के बाद दूसरे मुकाबले में जीत का पुराना फार्मूला अपनाया था जिसका फायदा भारत को मिला। कोहली ने 76 गेंदों पर 78 रनों की पारी खेली थी।

श्रेयस अय्यर

अय्यर को भी बल्लेबाजी क्रम में नंबर 4 की भूमिका मिलेगा वह पिछले कुछ महीनों में भारत के नंबर 4 सवाल का जवाब है। मुंबई में, उन्हें मिशेल स्टार्क द्वारा खूबसूरती से आउट किया गया था और शुक्रवार को दूसरे वनडे में भी वे केवल 7 ही रन बना पाए थे। इस युवा बल्लेबाज से भारत अंतिम मुकाबले में अंत तक टिकने वाली पारी की उम्मीद करेगा।

लोकेश राहुल

राहुल ने नंबर पांच पर पिछले मैच में कमाल किया था जिसकी चर्चा अभी तक थमी नहीं है। साथ ही पंत की अनुपस्थिति में उन्होंने विकेटकीपिंग भी की थी जो शानदार साबित हुई। भारत एक बार फिर से राहुल की विविधता को परखते हुए उनको नंबर 5 पर बैटिंग का मौका देगा और जिस तरह की फार्म में राहुल हैं उसको देखते हुए एक और फिनिशिंग पारी की उम्मीद करना बड़ी बात नहीं होगी।

मनीष पांडे और रविंद्र जडेजा- लोअर मीडिल ऑर्डर

मनीष पांडे और रविंद्र जडेजा- लोअर मीडिल ऑर्डर

मनीष पांडे

मनीष पांडे के पास पिछले मैच में अपनी उपयोगिता साबित करने का सुनहरा मौका था जो उन्होंने गंवा दिया। पांडे केवल 2 ही रन बना पाए। लेकिन पंत अगर मौजूद नहीं रहते हैं तो टीम इंडिया इस बल्लेबाज को एक और मौका देना चाहेगी। इससे पहले पांडे फॉर्म में रहे हैं और श्रीलंका के खिलाफ अंतिम टी -20 में उनके अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए, कर्नाटक के बल्लेबाज को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अंतिम वनडे में भारत के मध्य क्रम में जगह मिल सकती है।

IND vs AUS: 3 मीडिल ऑर्डर बल्लेबाजों के वीडियो देखकर राहुल ने किया कमाल

रविंद्र जडेजा

रवींद्र जडेजा जडेजा विशेष रूप से हार्दिक पंड्या की अनुपस्थिति में महत्वपूर्ण है। वह मुंबई में अच्छे भी लग रहे थे और उन्होंने फॉर्म को आगे बढ़ाते हुए भारत के लिए राजकोट में अच्छा प्रदर्शन किया। बल्लेबाजी में वे 20 रन बनाकर नाबाद रहे और गेंदबाजी में दो अहम विकेट लिए। एक बार फिर से जडेजा बेंगलुरू में अहम होंगे।

कुलदीप यादव

कुलदीप यादव

कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के बीच चयन करना हमेशा कठिन होता है। भारत मुंबई में कुलदीप के साथ गया। बाएं हाथ के कलाई-स्पिनर वार्नर और फिंच के सामने बेहतर भारतीय गेंदबाजों में से एक थे, लेकिन विकेट बनाने में असफल रहे पर उन्होंने राजकोट में शानदार प्रदर्शन किया और 2 विकेट लेकर भारत की मैच में वापसी कराई जिसमें एक विकेट 98 रन पर बैटिंग कर रहे स्टीव स्मिथ का था। इसके साथ ही यादव भारत के सबसे तेज 100 वनडे विकेट लेने वाले स्पिनर भी बन गए।

पेस गेंदबाजी तिकड़ी

पेस गेंदबाजी तिकड़ी

मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी ने राजकोट में रन काफी खर्च किए लेकिन सबसे ज्यादा 3 विकेट भी लिए। यह गेंदबाज 2019 के बाद से एकदिवसीय मैचों में भारत का सबसे अच्छा सीमर रहा है और वे बेंगलुरू में अपनी लय को बनाए रखने के लिए उतरेंगे जिसकी भारत को जीत के लिए जरूरत है।

टेस्ट टीम में वापसी कर सकते हैं केएल राहुल, फिटनेस तय करेगी हार्दिक का चयन

नवदीप सैनी

यह आश्चर्य की बात थी कि सैनी ने पहले एकदिवसीय मैच में एंट्री हासिल नहीं की। लेकिन शार्दुल ठाकुर के स्थान पर सैनी की वापसी दूसरे वनडे में हुई जहां उन्होंने एक बार फिर गति से प्रभावित किया और दो विकेट हासिल किए। छरहरे बदन का यह सीमर अपनी गति और उछाल के साथ एक्स-फैक्टर लाता है जो शक्तिशाली ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम के खिलाफ काम में आ सकता है।

जसप्रीत बुमराह

बुमराह मुंबई में अपने सर्वश्रेष्ठ में अंदाज में नहीं थे लेकिन राजकोट में उनका पुराना अंदाज एक बार फिर लौटता हुआ दिखाई दिया। बुमराह ने दूसरे वनडे में एक छोर से लगातार दबाव बनाए रखा और दूसरे छोर से अन्य गेंदबाजों को विकेट मिले। पीठ की चोट के बाद उनकी वापस हुई है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, January 18, 2020, 17:30 [IST]
Other articles published on Jan 18, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X