IND vs ENG: 'हीरो' को कर दिया बाहर- ईशांत को चुने जाने पर खुश नहीं है गौतम गंभीर

India vs England Chennai Test Match नई दिल्लीः इंग्लैंड की टीम ने अभी तक भारत को चेन्नई टेस्ट में पूरी टक्कर दी है। वे जज्बा दिखा रहे हैं और बता रहे हैं कि भारत के लिए यह सीरीज जीत थाल में परोसकर नहीं मिलेगी। ऐसा लगता है श्रीलंका में खेलकर इंग्लैंड के पास अधिक साफ नजरिया आया है। उनको पता है कि भारत में कैसे खूंटा गाड़ना होगा। फिलहाल वे ऐसी जल्दी में नहीं दिख रहे मानो भारत में टेस्ट सीरीज का यह पहला मैच हो। बल्कि ऐसा ही लग रहा है कि यह एशिया दौरे पर उनका तीसरा टेस्ट है जहां शुरुआती दो टेस्ट वे जीत चुके हैं।

क्या ईशांत अचानक युवा सिराज से नीचे हो गए?

क्या ईशांत अचानक युवा सिराज से नीचे हो गए?

इस बीच भारत ने जो टीम घोषित की है उसमें कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) की जगह पर शाहबाज नदीम (Shahbaz Nadeem)के आने से कई लोगों को नाराज किया है। पेस अटैक में ईशांत शर्मा ( Ishant Sharma) की वापसी हुई है लेकिन भारत के पूर्व क्रिकेट गौतम गंभीर ( Gautam Gambhir) ईशांत को पहले टेस्ट में लिए जाने से खुश नहीं हैं। गंभीर का कहना है कि ईशांत की जगह पर फॉर्म में मौजूद मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) को लेना चाहिए था। सिराज ने ऑस्ट्रेलिया में खूब नाम कमाया था जिसमें सबसे अधिक चर्चित उनका गाबा में लगाया गया पंजा था जिसके चलते कंगारू टीम चौथी पारी में 300 के नीचे आउट हो गई थी।

गंभीर ने कहा है कि वे तो सिराज को ही ईशांत से ऊपर रखते। क्या गंभीर की नजरों में ईशांत अचानक युवा सिराज से नीचे हो गए?

IND vs ENG: कुलदीप यादव को बाहर करने को गौतम गंभीर ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

गौतम गंभीर ने दिया ये तर्क-

गौतम गंभीर ने दिया ये तर्क-

इसके पीछे गंभीर ने तर्क दिया है कि ईशांत के साथ एकमात्र दिक्कत फिलहाल यही है कि उन्होंने बहुत लंबे समय से लाल गेंद क्रिकेट नहीं खेला है। ऐसे में तीसरे सीमर की उपस्थिति में ईशांत के लिए यह मुश्किल होगा कि वे दिन में 16-17 ओवर गेंदबाजी कर सकें।

उन्होंने ईएसपीएनक्रिकइन्फो को बताया, "हां मैंने सिराज को ही चुना होता। इसका कारण यह है कि ईशांत ने बहुत लंबे समय तक कोई लाल गेंद वाला क्रिकेट नहीं खेला है। आईपीएल (IPL) के बाद वह चोटिल हो गए हैं और फिर उन्होंने केवल टी 20 क्रिकेट खेला है। ऐसा भी नहीं है कि आपके पास तीन तेज गेंदबाज प्लेइंग इलेवन में हैं और आप वास्तव में दिन में 12-13 ओवर गेंदबाजी कर सकते हैं। आपको टेस्ट क्रिकेट में 15-16 ओवर फेंकने पड़ सकते हैं, लेकिन टी -20 क्रिकेट में गेंदबाजी करना हमेशा आसान होता है।"

मोहम्मद सिराज को फिलहाल हर तरीके से बेहतर मानते हैं गंभीर-

मोहम्मद सिराज को फिलहाल हर तरीके से बेहतर मानते हैं गंभीर-

आगे, गंभीर का मानना ​​है कि भारत को अहमदाबाद में गुलाबी गेंद के टेस्ट (Pink Ball Test) के लिए ईशांत को तैयार करना चाहिए था, जहां उन्हें तीन तेज गेंदबाजों के साथ जाना होगा और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार प्रदर्शन के बाद सिराज को आगे बढ़ने देना चाहिए था।

गंभीर ने निष्कर्ष निकालते हुए कहा, "आपको मोटेरा में गुलाबी गेंद के साथ तीन सीमरों को खेलना पड़ सकता है। इसलिए मैंने निश्चित रूप से मोटेरा के लिए या शायद दूसरे टेस्ट मैच के लिए ईशांत को लिया होता और फिलहाल के लिए सिराज के साथ गया होता क्योंकि सिराज इतने शानदार दौरे के बाद आ रहे हैं और उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में भी काफी लंबे स्पैल फेंके हैं।"

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, February 5, 2021, 13:31 [IST]
Other articles published on Feb 5, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X