ईडन पार्क में ग्रे सीटों के बीच केवल एक सीट का रंग है हरा, क्या है इसकी खास बात

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑकलैंड में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना दूसरा मुकाबला भी जीत लिया है। इसके साथ भारतीय टीम ने पांच मैचों की टी20 सीरीज में 2-0 से बढ़त हासिल कर ली है। मजेदार बात यह रही है रोहित लगातार दूसरी बार रन नहीं कर पाए और इस बार तो कप्तान विराट भी केवल 11 रनों के स्कोर पर चलते बने लेकिन भारत ने तब भी मैच जीतने में कामयाबी हासिल की क्योंकि एक बार फिर से जीत के हीरो राहुल और अय्यर साबित हुए जिन्होंने कोहली-रोहित के आउट होने के बाद शानदार साझेदारी की।

भारत-न्यूजीलैंड मैच के दौरान दिखी 1 हरी सीट

भारत-न्यूजीलैंड मैच के दौरान दिखी 1 हरी सीट

राहुल ने 57 रनों की पारी खेली और अय्यर ने 44 रन बनाए। यह ऑकलैंड में भारत की लगातार दूसरी जीत है। इससे पहले भारत ने पहला मुकाबला 6 विकेट से जीता था। ऑकलैंड के ईडन पार्क में सभी सीटों को ग्रे रंग से पेंट किया गया है लेकिन केवल एक खास सीट को हरा रंग दिया गया है। रविवार को जब कैमरामैन ने मैच के दौरान यह सीट दिखाई तो सबकी नजर पड़ी। साथ ही यह भी ख्याल आया कि सीट हरी क्यों हैं।

ये है इसके पीछे की खास वजह

ये है इसके पीछे की खास वजह

हम आपको बताते हैं कि इसके इस खास रंग के पीछे की वजह क्या है। इसके हरे रंग में रंगे जाने का कारण वो लोकप्रिय छक्का है जो न्यूजीलैंड के पूर्व बल्लेबाज ग्रांट इलियट ने 2015 विश्व कप के सेमीफाइनल में मारा था। सभी की निगाहें इलियट पर थीं क्योंकि उन्होंने अंतिम ओवर में दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज डेल स्टेन का सामना किया। ब्लैक कैप को आखिरी दो गेंदों पर पांच रन चाहिए थे जबकि प्रोटियाज को चार रनों की जरूरत थी।दिल की धड़कन की दौड़ तेज हो गई थी और प्रशंसक अपनी सीटों के किनारे पर चिपके हुए थे।

वायरल हो रही है प्रीति जिंटा के साथ गेल की ये तस्वीर, 'यूनिवर्सल बॉस' ने दी प्रतिक्रिया

24 मार्च, 2015 में स्टेन पर लगाया गया ऐतिहासिक छक्का

24 मार्च, 2015 में स्टेन पर लगाया गया ऐतिहासिक छक्का

दक्षिण अफ्रीका में जन्मे इलियट ने 40 वर्षों के 11 प्रयासों में न्यूजीलैंड को अपना पहला विश्व कप फाइनल खिलाने के लिए स्टेन की गेंद पर तब छक्का जड़ दिया था। वह 73 गेंदों पर 84 रन बनाकर नाबाद रहे, और जिस स्थान पर गेंद उतरी वह अब 'ग्रांट इलियट सीट' के रूप में अमर हो गई है। सीट के पीछे एक पट्टी भी है जिस पर लिखा है:

‘यहां ग्रांट इलियट का वो छक्का आराम कर रहा है, जिसने 24 मार्च, 2015 को अपने पहले विश्व कप फाइनल में ब्लैककैप्स को पहुंचाया था।'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, January 26, 2020, 16:23 [IST]
Other articles published on Jan 26, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X