IND vs ENG 5th Test : ओल्ड ट्रैफर्ड में कभी नहीं जीता भारत, क्या कोहली रच पाएंगे इतिहास?

स्पोर्ट्स डेस्क (राहुल) : इंग्लैंड को अपने ही घर भारतीय टीम के सामने कड़ा संघर्ष करना पड़ रहा है। मेजबान को द ओवल में 157 रनों से हार मिली जिससे 'विराट सेना' पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1 से आगे हो गया। अब आखिरी मैच मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर होगा। यह वो मैदान है जहां भारत को कभी जीत का स्वाद चखने का माैका नहीं मिला। माैजूदा भारतीय टीम ने कई बार साबित किया है कि उनके लिए पुराने रिकाॅर्ड मायने नहीं रखते। ना सिर्फ घरेलू बल्कि विदेशी पिचों पर भी जीत हासिल करने का जुनून टीम में भरा पड़ा है। ऐसे में उम्मीद है कि जब टीम 10 सितंबर को सीरीज का आखिरी मैच खेलने उतरेगी तो यह सूखा जीत के साथ समाप्त हो जाएगा।

यह भी पढ़ें- ये है सबसे तेज 100 टेस्ट विकेट लेने वाला गेंदबाज, 125 सालों से नहीं टूटा रिकाॅर्ड

क्या है ओल्ड ट्रैफर्ड का रिकाॅर्ड

क्या है ओल्ड ट्रैफर्ड का रिकाॅर्ड

इस मैदान में दोनों टीमों के बीच आपसी टक्कर 9 बार देखने को मिली है, लेकिन भारतीय टीम को एक भी जीत नसीब नहीं हुई है। वहीं इंग्लैंड ने 4 बार जीत हासिल की है, तो 5 मैच ड्रा पर समाप्त हुए हैं। इंग्लैंड ने इस बीच भारत को एक पारी के साथ दो बार हराने का काम किया, जबकि जो अन्य दो जीत रहीं, वो भी 100 से अधिक रनों से उन्हें मिली है। दोनों के बीच यहां पहला मैच जुलाई 1936 को खेला गया था। भारत ने टाॅस जीतकर पहली पारी में 203 रन बनाए। वहीं इंग्लैंड ने वैली हैमंड के 167 रनों की पारी की मदद से 8 विकेट खोकर 571 रनों पर पहली पारी घोषित की। भारत ने दूसरी पारी में 5 विकेट पर 390 रन बनाकर मैच ड्रा किया।

ओल्ड ट्रैफर्ड में दोनों टीमों के बीच हुए मुकाबलों के नतीजे-

जुलाई 1936- मैच ड्रा पर समाप्त

जुलाई 1946- मैच ड्रा पर समाप्त

जुलाई 1952- इंग्लैंड ने भारत को एक पारी और 207 रनों से हराया

जुलाई 1959- इंग्लैंड 171 रनों से जीत

अगस्त 1971- मैच ड्रा पर समाप्त

जून 1974- इंग्लैंड 113 रनों से जीत

जून 1982- मैच ड्रा पर समाप्त

अगस्त 1990- मैच ड्रा पर समाप्त

अगस्त 2014- इंग्लैंड ने भारत को एक पारी और 54 रन से हराया

अब 7 साल बाद होंगे आमने-सामने

अब 7 साल बाद होंगे आमने-सामने

बस इंतजार कीजिए ओल्ड ट्रैफर्ड में दोनों टीमों के उतरने का। दोनों टीमें इस मैदान पर अब 7 साल बाद आमने-सामने होंगी। साल 2014 में भारतीय टीम महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में इंग्लैंड दाैरे पर 5 टेस्ट खेलने के लिए गई थी। सीरीज का चाैथा मैच इसी मैदान पर तब अगस्त महीने में खेला था। भारतीय टीम ने टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया, लेकिन स्टुअर्ट ब्राॅड ने 6 विकेट लेकर उनकी पहली पारी को 152 पर समाप्त कर दिया। इंग्लैंड ने पहली पारी 9 विकेट पर 367 रन बनाकर घोषित की। फिर दूसरी पारी में भी भारतीय बल्लेबाजी 161 पर सिमट गई और इंग्लैंड ने एक पारी और 54 रनों से मैच जीत लिया।

अब लंबे समय बाद फिर इस मैदान पर दोनों टीमें भिड़ेंगी, लेकिन इस बार भारतीय टीम बिल्कुल अलग है। टीम में चैंपियन खिलाड़ी हैं जो किसी भी समय मैच बदलने में दम रखते हैं। शार्दुल ठाकुर, जसप्रीत बुमराह, रोहित शर्मा, उमेश यादव से फिर धमाकेदार प्रदर्शन की उम्मीद है। अब देखना यह बाकी है कि टीम यहां हार का सिलसिला तोड़ती है या नहीं।

क्या कोहली रच पाएंगे इतिहास?

क्या कोहली रच पाएंगे इतिहास?

लंदन के केनिंग्टन ओवल में हुए चाैथे मैच में जब भारतीय टीम जीती तो विराट कोहली का कप्तानी रिकाॅर्ड फिर चमक उठा। वह ओवल में टीम को पिछले 50 सालों में पहली जीत दिलाने वाले भारतीय कप्तान बने। अब देखना है कि क्या ओल्ड ट्रैफर्ड में भी कोहली इतिहास रच पाएंगे? अगर टीम आखिरी मैच को जीत जाती है तो ना सिर्फ सीरीज पर कब्जा होगा, बल्कि कोहली टेस्ट इतिहास में भारत को ओल्ड ट्रैफर्ड में जीत दिलाने वाले पहले भारतीय कप्तान भी बन जाएंगे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Tuesday, September 7, 2021, 21:45 [IST]
Other articles published on Sep 7, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X