भारत से ऐसे क्लीन स्वीप का बदला लेगा श्रीलंका, बनाई खास रणनीति

Posted By:

नई दिल्ली। पाकिस्तान के साथ वनडे और टी20 सीरीज गंवाने के बाद श्रीलंका की टीम भारत दौरे पर आई है। पहली बार टेस्ट मैच जीतने की उम्मीद के साथ यहां पहुंची श्रीलंका की टीम इस कड़ी सीरीज की शुरुआत कल से यहां बोर्ड अध्यक्ष एकादश के खिलाफ दो दिवसीय अभ्यास मैच से करेगी। भारतीय सरजमीं पर अपने बेहद खराब प्रदर्शन को सुधारने के लिए प्रयास से भारत दौरे पर आई श्रीलंकाई टीम कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम के खिलाफ रणनीति बनाने में लगी है।

India vs Sri lanka test series: Sri Lanka making special strategy against india

भारत में नहीं जीता है एक भी टेस्ट
श्रीलंका ने अब तक भारत में जो 17 टेस्ट मैच खेले हैं उनमें से दस में उसे हार मिली है और बाकी सात मैच ड्रॉ रहे हैं। श्रीलंकाई टीम के कप्तान भारतीय सरजमीं पर अपना पहला टेस्ट मैच भी खेलेंगे। वह एंजेलो मैथ्यूज और रंगना हेराथ के अनुभव का फायदा उठाने की कोशिश करेंगे जो सात साल पहले 0-2 से टेस्ट सीरीज हारने वाली टीम का हिस्सा थे।

भारत ने 9-0 से किया था क्लीन स्वीप
बता दें कि इससे पहले इसी साल भारत ने श्रीलंका को उसी के घर में टेस्ट, वनडे और टी20 में क्लीन स्वीप किया था। तब भारतीय टीम ने पहले तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में सफाया किया था फिर 5 मैचों की वनडे सीरीज में और फिर एक एकमात्र टी20 मैच जीता था। इस तरह भारत ने श्रीलंका का 9-0 से सफाया किया था। हालांकि भारत से करारी शिकस्त मिलने के बाद श्रीलंका ने पाकिस्तान को टेस्ट सीरीज में 2-0 से हराया था। कुल मिलाकर उसका मनोबल जरूर बढ़ा होगा।

ये है श्रीलंका की रणनीति
भारत आने के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांडीमल ने संकेत दिए कि पांच गेंदबाजी आक्रमण के बजाय भारत के खिलाफ चार गेंदबाजों की रणनीति पर वापसी कर सकते हैं। चांडीमल ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'पाकिस्तान के खिलाफ, हम छह बल्लेबाजों और पांच गेंदबाजों के साथ खेले थे, जो विशेषकर संयुक्त अरब अमीरात की गर्मी में सचमुच कारगर रहा था, इसमें चार गेंदबाजों के साथ खेलकर मैच जीतना आसान नहीं था। लेकिन भारत के पास कुछ अच्छे गेंदबाज हैं, इसलिए हमें आलराउंडर के बारे में विचार करने की जरूरत है. हम पिच देखेंगे और रणनीति बनाएंगे।' बता दें कि पहले टेस्ट मैच कोलकाता के ईडन गार्डन्स में 16 नवंबर से खेला जाएगा।

इसे भी पढ़ेंः- आज है क्रिकेट के इतिहास का 'सबसे भावुक' दिन, 26 साल पहले भारत ने ऐसे जीता था दक्षिण अफ्रीका का दिल

Story first published: Friday, November 10, 2017, 15:42 [IST]
Other articles published on Nov 10, 2017
Please Wait while comments are loading...