आंद्रे रसेल ने किया अपने जीवन के सबसे मुश्किल समय का खुलासा, कहा- जलन के चलते मुझे किया क्रिकेट से दूर

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग का 14वां सीजन फिलहाल 2 बार की खिताबी चैम्पियन टीम कोलकाता नाइट राइडर्स के लिये कुछ खास नहीं साबित हुआ है और वो 7 मैच खेलकर सिर्फ 2 मैचों में ही जीत हासिल कर सकी है। इस बीच केकेआर की टीम के हरफनमौाला खिलाड़ी और विस्फोटक बल्लेबाज आंद्रे रसेल ने एक वीडियो के दौरान बताया कि वो ईडन गार्डन्स की भीड़ को मिस कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के चलते इस सीजन का आईपीएल भी बिना दर्शकों के खाली स्टेडियम में ही आयोजित कराया जा रहे है।

और पढ़ें: RCB को सहवाग की बड़ी सलाह, कहा- कोहली नहीं इस खिलाड़ी को करनी चाहिये ओपनिंग

कोरोना वायरस के चलते इस सीजन 6 शहरों में सभी मैच खेले जा रहे हैं जिसमें ईडन गार्डन्स का मैदान भी शामिल है हालांकि इस सीजन कोई भी टीम अपने घरेलू मैदान पर कोई मैच नहीं खेल रही है और सभी खिलाड़ियों को अपने घरेलू फैंस या घरेलू मैदान पर खेलने का फायदा नहीं मिल रहा है। इस पर बात करते हुए आंद्रे रसेल ने कहा कि जब वो ईडन गार्डन्स की भीड़ के सामने खेलते हैं तो उनके अंदर की आग बाहर आती है और इसी के चलते वह बड़ी पारियां खेलने में कामयाब होते हैं। इस सीजन वो उसे मिस कर रहे हैं।

और पढ़ें: MI vs CSK: मैदान पर उतरते ही रैना ने रचा इतिहास, धोनी-रोहित के खास क्लब में हुए शामिल

फैन्स को मिस कर रहे हैं आंद्रे रसेल

फैन्स को मिस कर रहे हैं आंद्रे रसेल

केकेआर की बेवसाइट के साथ बात करते हुए आंद्रे रसेल ने लिखा,' मैं इस सीजन फैन्स की भीड़ और खास तौर से ईडन गार्डन्स की भीड़ के सामने खेलना मिस कर रहा हूं। जब भी मैं वहां पर खेलता हूं तो पता होता है कि हजारों लोग आपके पीछे हैं और यही मुझे आगे बढ़ने की प्रेरणा देते रहते हैं। यह मेरे अंदर की आग को बाहर निकालने का काम करती है।'

रसेल ने आगे बात करते हुए कहा कि जब मैं क्रीज पर दौड़ना शुरू करता हूं या फिर पहली गेंद का सामना करता हूं तो लोग मेरे पीछे जोर से सपोर्ट करते नजर आते हैं। यह आवाज एकदम अलग फील कराती है।

रसेल ने बताया अपने करियर का सबसे मुश्किल समय

रसेल ने बताया अपने करियर का सबसे मुश्किल समय

गौरतलब है कि कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम ने साल 2014 में आंद्रे रसेल को अपने साथ जोड़ने का काम किया था लेकिन 2017 में डोपिंग बैन के चलते टीम से दूर रहना पड़ा था, हालांकि उन्होंने जबरदस्त वापसी की और केकेआर की टीम का अहम हिस्सा बन चुके हैं।

आंद्रे रसेल ने इस समय को अपने करियर का सबसे मुश्किल समय बताया और कहा कि जब मैं 100 मीटर से ज्यादा लंबे छक्के और 140 से ज्यादा गति से गेंद फेंक रहा था तो मुझ पर यह आरोप लगा कर खेल से दूर रहने को मजबूर कर दिया गया।

जलन के चलते काबिलियत पर उठाये सवाल

जलन के चलते काबिलियत पर उठाये सवाल

रसेल का मानना है कि लोगों को किसी खिलाड़ी का अच्छा करना समझ नहीं आता है इसी के चलते जो लोग मुझसे जलन रखते थे उन्होंने ऐसे आरोप लगाकर खेल से दूर होने पर मजबूर कर दिया।

आंद्रे रसेल ने क्रिकेट से दूर रहने वाले समय को लेकर भी बात की और कहा कि मेरे लिये इस खेल से दूर रहना काफी मुश्किल था और यह साल सबसे मुश्किल रहा। जब आप अच्छा कर रहे होते हैं तो कुछ लोग आपको नीचा दिखाने की तरकीब ढूंढना शुरू करते हैं और आरोप लगाते हैं, हालांकि इन चीजों ने मुझे और मजबूत बनाने का काम किया। उस वक्त केकेआर के निदेशक मेरे पास आये और कहा कि आप इसका इस्तेमाल खुद को आराम देने और ध्यान केंद्रित करने पर करें।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, May 2, 2021, 7:00 [IST]
Other articles published on May 2, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X