भारतीय क्रिकेट के इतिहास को बदलना चाहते हैं मोहम्मद सिराज, बताया- कैसे करेंगे यह बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम

IPL 2021 Mohammed Siraj: नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन का आगाज होने में अब बस एक दिन का ही समय रह गया है और सीजन के पहले मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम को जिताने के लिये तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज पूरी तरह से तैयार हैं। मोहम्मद सिराज ने भारतीय टीम के लिये हाल ही में समाप्त हुए अंतर्राष्ट्रीय सीजन में शानदार गेंदबाजी की और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने में अहम भूमिका निभाई। टेस्ट क्रिकेट के बाद अब वो आईपीएल में अपना रंग जमाने को तैयार हैं। शुक्रवार को होने वाले मैच से पहले मोहम्मद सिराज का एक वीडियो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर शेयर किया गया है जिसमें वह बताते नजर आ रहे हैं कि वो कैसे भारतीय क्रिकेट इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज कराना चाहते हैं और इसको लेकर उनकी क्या तैयारी है।

क्या ICC प्लेयर ऑफ द मंथ में हैट्रिक लगायेंगे भारतीय खिलाड़ी, जानें कौन-कौन हैं दावेदार

मोहम्मद सिराज भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज बनना चाहते हैं, जिसको लेकर वो इस समय पूरी तरह से कड़ी मेहनत कर रहे हैं। सिराज ने कहा कि वो खुद को मिल रहे हर मौके को भुनाना चाहते हैं ताकि वो अपने लक्ष्य की प्राप्ति कर सकें।

IPL 2021: खलील अहमद का खुलासा, बताया- किन 2 खिलाड़ियों के दम पर फिर चैम्पियन बनेगी हैदराबाद

भारत के लिये 1000 विकेट लेना चाहते हैं मोहम्मद सिराज

भारत के लिये 1000 विकेट लेना चाहते हैं मोहम्मद सिराज

मोहम्मद सिराज ने इस वीडियो में बात करते हुए बताया कि वो भारत के लिये सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय विकेट लेने वाले गेंदबाज बनना चाहते हैं। उल्लेखनीय है कि भारतीय क्रिकेट का यह रिकॉर्ड अनिल कुंबले के नाम है जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 956 विकेट हासिल करने का काम किया है, वहीं तेज गेंदबाजों में यह रिकॉर्ड कपिल देव के नाम है जिन्होंने 687 अंतर्राष्ट्रीय विकेट हासिल किये हैं।

उन्होंने कहा,'मैं भारत के लिये सभी प्रारूपों में खेलना चाहता हूं और कम से कम 1000 विकेट लेना चाहता हूं ताकि मैं अपने देश के लिये सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय विकेट लेने वाला गेंदबाज बन सकूं। मैं इसके लिये कड़ी मेहनत कर रहा हूं और खुद को मिलने वाले हर मौके का फायदा उठाने को तैयार हूं।'

बुमराह-ईशांत की वजह से घातक हुई गेंदबाजी

बुमराह-ईशांत की वजह से घातक हुई गेंदबाजी

मोहम्मद सिराज ने नवंबर 2017 में भारत की ओर से अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू किया था, तब से लेकर अब तक वह 5 टेस्ट, एक वनडे और 3 टी20 मैच खेल चुके हैं। इस दौरान उनकी गेंदबाजी में काफी बदलाव देखने को मिला है और वो पहले की तुलना में ज्यादा खतरनाक और असरदार बनते नजर आ रहे हैं। सिराज ने इसका श्रेय जसप्रीत बुमराह और ईशांत शर्मा को दिया।

मोहम्मद सिराज ने कहा,'मैं जब भी बॉलिंग करता थो तो मेरे पीछे खड़े जसप्रीत बुमराह हमेशा मुझे अपने बेसिक्स पर टिके रहने की सलाह देते और कहते कि ज्यादा अलग करने की जरूरत नहीं है। उनके अनुभव से सीखना मेरे लिये काफी फायदेमंद रहा। इतना ही नहीं मैं भारत के लिये 100 टेस्ट मैच खेलने वाले इशांत शर्मा के साथ भी खेला हूं, और उनके अनुभव का फायदा भी मुझे मिला है।'

बेटे की तरह मानते हैं गेंदबाजी कोच भरत अरुण

बेटे की तरह मानते हैं गेंदबाजी कोच भरत अरुण

मोहम्मद सिराज ने आगे बताया कि भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण भी उनके इस सपने को साकार करने में काफी मदद करते हैं और उन्हें अपने बेटे की तरह मानते हैं।

उन्होंने कहा,'जब आरसीबी की टीम के बल्लेबाजी कोच संजय बांगर ने मेरी तारीफ की तो उन्हें काफी अच्छा महसूस हुआ और इस आईपीएळ में भी अपनी आक्रामक गेंदबाजी को जारी रखेंगे। अरुण सर ने भी मेरा काफी साथ दिया है, वो मुझे अपने बेटे की तरह मानते हैं। मैं जब भी उनसे बात करता हूं तो आत्म-विश्वास बढ़ता है। वह हमेशा मुझे लाइन और लेंथ का ध्यान रखने के लिये कहते हैं।'

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, April 8, 2021, 17:07 [IST]
Other articles published on Apr 8, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X