IPL 2021: वानखेड़े स्टेडियम का आईपीएल रिकॉर्ड, पिच रिपोर्ट, क्या इस बार भी होगी रनों की बारिश

नई दिल्लीः महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ऋषभ पंत की दिल्ली कैपिटल्स की टीम के साथ आईपीएल 2021 का दूसरा मुकाबला 10 अप्रैल को खेलेगी। यह मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में होगा। आइए देखते हैं वानखेड़े स्टेडियम का आईपीएल में क्या रिकॉर्ड है और यहां पर हाल ही के समय में हुए टी-20 मुकाबलों का क्या हाल रहा है। इसके साथ ही हम मुंबई के इस प्रतिष्ठित क्रिकेट स्टेडियम की पिच रिपोर्ट पर भी चर्चा करेंगे।

सबसे पहले हम आपको बता दें कि आईपीएल का पिछला सीजन संयुक्त अरब अमीरात में हुआ था लेकिन वानखेड़े स्टेडियम में अगर आईपीएल 2019 रिकॉर्ड की बात करते हैं तो हम देखते हैं कि यहां पर 7 मैच हुए थे जिसमें पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम को दो बार जीत मिली जबकि दूसरी बार बैटिंग करने वाली टीम 4 बार जीती थी। यहां पर एक मुकाबला टाई हुआ है जो सुपर ओवर में पहुंचा था।

आईपीएल 2019 में वानखेड़े स्टेडियम का रिकॉर्ड-

आईपीएल 2019 में वानखेड़े स्टेडियम का रिकॉर्ड-

इस मैदान पर पहले बैटिंग करते हुए सबसे कम रनों का रिकॉर्ड केकेआर के नाम है जो उसने मुंबई इंडियंस के खिलाफ बनाया था और यह स्कोर 7 विकेट के नुकसान पर 133 रन था। दूसरी बैटिंग में सबसे कम इस स्कोर चेन्नई सुपर किंग्स के नाम है और यह भी मुंबई इंडियंस के ही खिलाफ बना था। तब चेन्नई सुपर किंग्स की टीम 170 रनों का पीछा कर रही थी और 8 विकेट पर 133 रन ही बना पाई थी।

IPL 2021, CSK vs DC: धोनी बनाम पंत का मुकाबला, जानिए कैसी होगी ड्रीम11

बात करते हैं पहले बैटिंग करते हुए सबसे ज्यादा रनों के रिकॉर्ड की तो यह दिल्ली कैपिटल्स के नाम है। मजेदार बात यह है कि यह भी मुंबई इंडियंस के ही खिलाफ बना था जो कि 6 विकेट पर 213 रनों का स्कोर है और उस मैच में मुंबई इंडियंस ने 176 रन बनाए थे जो दूसरी बार बैटिंग करते हुए सबसे ज्यादा स्कोर बनाने का रिकॉर्ड है। इस मैदान पर सबसे ज्यादा रनों का सफल पीछा भी मुंबई इंडियंस ने किया है। तब एमआई ने किंग्स इलेवन पंजाब के 197 रनों के लक्ष्य का पीछा किया था।

बैटिंग की बात करें तो यहां पर स्पिनरों द्वाराृ कुल 16 विकेट लिए गए हैं जिसका मतलब है कि वानखेड़े स्टेडियम में स्पिनर 2.2 विकेट प्रति मैच के हिसाब से लेते हैं। वहीं तेज गेंदबाजी में यह आंकड़ा 8.8 विकेट प्रति मैच पहुंच जाता है। पेसर यहां पर 62 विकेट ले चुके हैं।

हाल के मैचों का टी20 रिकॉर्ड-

हाल के मैचों का टी20 रिकॉर्ड-

अब वानखेड़े स्टेडियम में सबसे हालिया टी20 मैचों के रिकॉर्ड की बात भी करते हैं। यहां पर 2021 में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेली गई थी जिसके कुल मिलाकर 15 मुकाबले यहां हुए थे। उन 15 मुकाबलों में पहले बैटिंग करने वाली टीम को केवल 3 बार जीत मिली जबकि 12 बार वह टीम जीती जिसने दूसरी बार बैटिंग की। इस दौरान यहां पर पहली पारी में औसत स्कोर 162 रन बना था।

IPL 2021: एम चिदंबरम स्टेडियम के आईपीएल रिकॉर्ड, बैटिंग-बॉलिंग में कौन है टॉप पर

आप इन आंकड़ों के साथ देख सकते हैं कि वानखेड़े स्टेडियम में चेज करना आसान होता है और यहां पर आमतौर पर पिच क्यूरेटर बल्लेबाजी के मुफीद विकेट बनाते हैं। यहां तक कि 180 रनों का टोटल भी वानखेड़े में सुरक्षित नहीं माना जाता है। हालांकि आईपीएल का रिकॉर्ड बताता है कि वानखेड़े स्टेडियम में तेज गेंदबाजों का योगदान हमेशा महत्वपूर्ण रहा है। जबकि स्पिनर यहां बमुश्किल ही विकेट लेते हैं।

वानखेड़े स्टेडियम पिच रिपोर्ट-

वानखेड़े स्टेडियम पिच रिपोर्ट-

इस बार पिच बनाने में लाल मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है तो माना जा रहा है तेज गेंदबाजों को अच्छा उछाल और गति मिलेगी लेकिन उसके साथ ही गेंद बल्ले पर भी अच्छे से आएगी जिसका मतलब होगा इस बार भी काफी रनों की बौछार फिर से देखने को मिलेगी।

इस साल आईपीएल में वानखेड़े स्टेडियम में कुल मिलाकर 10 मुकाबले होंगे। चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल यहां पर 5-5 मैच खेलेंगे। हालांकि मुंबई इंडियंस की टीम इस बार यहां मौजूद नहीं होगी क्योंकि सभी टीमों को अपने घरेलू मैदान से बाहर मैच खेलने हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Saturday, April 10, 2021, 14:44 [IST]
Other articles published on Apr 10, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X