'जिंदगी से बड़ा नहीं क्रिकेट'- मुश्फिकर रहमान ने बताया पाकिस्तान ना जाने का कारण

नई दिल्ली: हफ्तों की चर्चा के बाद, बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (BCB) और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) आखिरकार एक सहमित पर आ गए हैं। यहां मामला है बांग्लादेश के पाकिस्तान के पूर्ण दौरे का। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) वैसे तो पाकिस्तान की धरती पर टेस्ट सीरीज खेलने में सहमत नहीं था, लेकिन अंत में इस दौरे पर सहमति जता दी गई अब यह एक व विभाजित दौरा होगा यानी दो अलग-अलग समयों के तहत बांग्लादेशी टीम पाकिस्तान जाएगी।

हालांकि, बांग्लादेश के अनुभवी खिलाड़ी मुश्फिकुर रहीम ने सुरक्षा चिंताओं का हवाला देते हुए दौरे से बड़ा झटका दिया है। रहीम ने कहा कि उन्होंने बीसीबी को पहले ही सूचित कर दिया है कि वह दौरे के लिए पाकिस्तान नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा कि उनका परिवार पाकिस्तान में सुरक्षा स्थितियों को लेकर चिंतित है साथ ही मुश्फिकर ने यह कहा कि क्रिकेट जिंदगी से बड़ा नहीं है।

पूरी सीरीज में शामिल नहीं होंगे रहमान

पूरी सीरीज में शामिल नहीं होंगे रहमान

"मैंने पहले ही बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) को सूचित कर दिया है कि मैं आगामी श्रृंखला के लिए पाकिस्तान नहीं जा रहा हूं। मैंने एक आधिकारिक पत्र प्रस्तुत किया है, और बीसीबी ने स्वीकार किया है। सिर्फ टी 20 आई ही नहीं, मैं पूरी श्रृंखला के लिए अनुपलब्ध हूं, "मुशफिकुर ने शुक्रवार को शेर-ए-बांग्ला नेशनल क्रिकेट स्टेडियम में बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) के फाइनल के बाद मीडिया को बताया।

इतिहास का एकमात्र टेस्ट जो 3 दिन बारिश में धुला, फिर भी रोमांचक जीत के साथ खत्म हुआ

टुकड़ों में बंटा पाकिस्तान का दौरा

टुकड़ों में बंटा पाकिस्तान का दौरा

"मेरा परिवार पाकिस्तान की सुरक्षा स्थिति से डरता है। इस स्थिति में, मैं पाकिस्तान नहीं जा सकता और वहां क्रिकेट नहीं खेल सकता हूं। उन्होंने कहा कि मेरे लिए बांग्लादेश की राष्ट्रीय टीम की सीरीज से बाहर बैठना हमेशा कठिन होता है।"

बता दें कि पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की T20I सीरीज 24 से 27 जनवरी के बीच खेले जाने वाली है, जबकि दो मैचों की टेस्ट श्रृंखला फरवरी और अप्रैल के बीच विभाजित की गई है। पहला टेस्ट 7 फरवरी से रावलपिंडी में और दूसरा टेस्ट 5 अप्रैल से कराची में खेला जाना है।

दो मैचों की टेस्ट सीरीज़ के बीच, 3 अप्रैल को एक एकदिवसीय मैच भी निर्धारित है - जो दौरे के कार्यक्रम को और अधिक जटिल बना देता है।

रहीम ने बताया आगे पाकिस्तान जाएंगे या नहीं

रहीम ने बताया आगे पाकिस्तान जाएंगे या नहीं

हालांकि श्रीलंका और पाकिस्तान के बीच हाल ही में संपन्न टेस्ट श्रृंखला के बाद, लंका के खिलाड़ियों ने पाकिस्तान में सुरक्षा व्यवस्था की सराहना की थी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में क्रिकेट खेलना बिल्कुल सुरक्षित है। हालांकि, रहीम ने कहा कि अगर पाकिस्तान में स्थिति बेहतर हो जाती है और लगातार ऐसा बना रहता है तो वह क्रिकेट खेलने के लिए वहां जाना पसंद करेंगे।

सानिया मिर्जा की शानदार वापसी, नाडिया किचेनोक के साथ जीता होबार्ट इंटरनेशनल खिताब

"मेरा परिवार मुझे पाकिस्तान जाने की अनुमति नहीं दे रहा है। क्रिकेट जीवन से बड़ा नहीं है। लेकिन साथ ही, मैं यह कहना चाहूंगा कि पाकिस्तान की स्थिति पहले से बेहतर है। मैंने उस घटना से पहले 2008 में पाकिस्तान का दौरा किया था (2009 में श्रीलंकाई टीम पर आतंकी हमला)। पाकिस्तान क्रिकेट खेलने के लिए एक शानदार जगह है। पाकिस्तान के विकेट बल्लेबाजी के अनुकूल हैं। लेकिन अगर स्थिति बेहतर हो जाती है और लगातार बेहतर बनी रहती है, तो मैं निश्चित रूप से पाकिस्तान जाकर क्रिकेट खेलना पसंद करूंगा। '' मुश्फिकुर ने कहा।

रहीम के बिना युवाओं के पास मौका

रहीम के बिना युवाओं के पास मौका

"कई खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने बीपीएल और भारत के खिलाफ सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया। मैं उनसे आगामी सीरीज में भी अच्छा खेलने की उम्मीद करूंगा। यह युवाओं के लिए एक अवसर है। पाकिस्तान जैसी टीम के खिलाफ उसके घर में अच्छा क्रिकेट खेलना वास्तव में कठिन है। लेकिन मुझे विश्वास है कि लड़के एक मजबूत चुनौती पेश करेंगे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, January 18, 2020, 13:46 [IST]
Other articles published on Jan 18, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X