विंडीज के खिलाफ नवदीप सैनी का टी-20 में ड्रीम डेब्यू, 10 साल बाद दोहराया यह रिकॉर्ड

नई दिल्ली। विंडीज के खिलाफ तीन टी20 मैचों की सीरीज का पहला मैच भारत के नए तेज गेंदबाज नवदीप सैनी के लिए यादगार बन गया है। सैनी का यह पहला अंतरराष्ट्रीय मैच था। इस दाैरान उन्होंने अपनी गेंदबाजी के दम पर 10 साल पुराना रिकॉर्ड दोहराहते हुए चारों ओर से वाहवाही लूट ली है। सैनी ने डेब्यू मैच की चौथी और पांचवीं गेंद पर नवदीप सैनी ने लगातार दो विकेट झटके। इसी के साथ वह भारत की ओर से डेब्यू मैच के पहले ओवर में दो विकेट चटकाने वाले दूसरे गेंदबाज रहे।

इन्हें किया आउट

इन्हें किया आउट

विंडीज की पारी के लिए छठा ओवर सैनी फेंकने आए। सैनी का यह अंतरराष्ट्रीय करियर का पहला ओवर रहा। सैनी के ओवर की चौथी गेंद पर निकोलस पूरन अपना कैच विकेट के पीछे ऋषभ पंत को थमा बैठे। इसके बाद शिमरोन हेटमायर अपनी पहली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। इसी के साथ सैनी टी20 में प्रज्ञान ओझा के बाद भारत की ओर से डेब्यू मैच के पहले ओवर में दो विकेट चटकाने वाले दूसरे गेंदबाज बन गए। ओझा ने 2009 में ट्रेंट ब्रिज में बांग्लादेश के खिलाफ यह करिश्मा किया था।

रोरी बर्न्स ने जड़ा शतक तो जिम्मी निशम ने उड़ाया विराट कोहली का मजाक

टी-20 मैच खेलने वाले 80वें खिलाड़ी बने

टी-20 मैच खेलने वाले 80वें खिलाड़ी बने

सैनी ने इस मैच में 4 ओवर फेंके, जिसमें उन्होंने 4.25 की इकॉनमी से महज 17 रन देकर 3 विकेट झटके। इस दौरान सैनी ने पारी का आखिरी ओवर मेडन भी निकाला। उन्होंने लगातार 145 किमी प्रति घंटे से तेज गेंद फेंक कर अपनी अलग पहचान बनाई है। उन्हें इससे पहले पिछले साल अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए टीम में मौका मिला था लेकिन प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने में असफल रहे। वह भारत के लिए टी-20 मैच खेलने वाले 80वें खिलाड़ी हैं। नवदीप सैनी ने अभी तक 34 टी-20 मैच खेले हैं और इसमें उनके नाम 30 विकेट दर्ज हैं। आईपीएल 2019 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु के लिए खेलते हुए 13 मैचों में 11 विकेट लिए थे। इन्हीं प्रदर्शन की वजह से उन्हें भारतीय टीम में जगह मिली है।

ऐसे मिली थी IPL में जगह

ऐसे मिली थी IPL में जगह

नवदीप सैनी हरियाणा के करनाल से एक आम परिवार से आते हैं। दादा करम सिंह फ्रीडम फाइटर रहे हैं और वे नेताजी सुभाषचंद्र बोस की आजाद हिंद फौज में थे। क्रिकेट खेलने का जुनून तो था मगर इसे आगे खेलने के लिए न तो गाइडेंस थी और न ही पैसा। टेनिस बॉल क्रिकेट टूर्नामेंट खेलने दूर-दूर तक जाते थे। वहां से जो पैसा मिला उससे करनाल प्रीमियर लीग में खुद को रजिस्टर करवाया। यहां नजर पड़ी दिल्ली के मीडियम फास्ट बॉलर सुमित नरवाल की। नरवाल ही नवदीप को दिल्ली लेकर गए थे। घरेलू क्रिकेट में अच्छे प्रदर्शन के दम पर आईपीएल की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरू में नवदीप को जगह मिली।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, August 3, 2019, 22:17 [IST]
Other articles published on Aug 3, 2019
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X