सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी के सेमीफाइनल में बेकार गई दर्शन नलकंडे की हैट्रिक, 4 रन से जीता कर्नाटक

SMAT
Photo Credit: BCCI/Twitter

नई दिल्ली। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के 2021-22 संस्करण का दूसरा सेमीफाइनल मैच विदर्भ और कर्नाटक की टीम के बीच खेला गया, जहां पर दोनों टीमों से कुछ युवा खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन देखने को मिला, हालांकि मनीष पांडे की कप्तानी वाली कर्नाटक की टीम आखिर में अपनी नब्ज पर पकड़ रखने में कामयाब रही और 4 रनों से मैच जीतकर फाइनल में जगह बना ली है। अब खिताब के लिये कर्नाटक की टीम का सामना फाइनल में तमिलनाडु की टीम से होगा जिसने पहले सेमीफाइनल मैच में हैदराबाद को मात दी थी।

और पढ़ें: IND vs NZ: 2 साल बाद ईडन गार्डन्स में खेला जायेगा पहला मैच, रोहित तोड़ सकते हैं कोहली का बड़ा रिकॉर्ड

विदर्भ और कर्नाटक की टीम के बीच खेला गये इस सेमीफाइनल मैच में भले ही विदर्भ की टीम को हार का सामना करना पड़ा हो लेकिन उसके तेज गेंदबाज दर्शन नलकंडे ने अपनी गेंदबाजी का शानदार प्रदर्शन करते हुए कर्नाटक की पारी के आखिरी ओवर में न सिर्फ अपनी हैट्रिक पूरी की बल्कि लगातार 4 गेंदों में 4 विकेट अपने नाम किये। कर्नाटक की पारी के आखिरी ओवर नलकंडे ने अपने सभी विकेट अच्छी गेंद पर लिये और सिर्फ एक रन देकर 4 विकेट अपने नाम किये।

और पढ़ें: 17 साल की लड़की के साथ गंदी बात करता था इंग्लिश क्रिकेटर, 6 साल पुरानी करतूत आयी सामने

नलकंडे ने 4 गेंदों में झटके 4 विकेट

नलकंडे ने पहले अभिनव मनोहर (27) को कैच कराकर वापस पवेलियन भेजा, तो वहीं अगली गेंद पर अनिरुद्ध जोशी (1) भी वापस लौट गये। दर्शन नलकंडे ने ओवर की चौथी गेंद पर बी आर शरथ का विकेट लेकर टी20 प्रारूप की अपनी पहली हैट्रिक पूरी की। हालांकि वह यहीं पर रुकना नहीं चाहते थे और अगली गेंद पर जगदीश सुचित को विकेट लेकर सेमीफाइनल मैच में लगातार 4 गेंदों में 4 विकेट हासिल करने वाले पहले गेंदबाज बन गये हैं। नलकंडे के इस शानदार ओवर की वजह से जो कर्नाटक की टीम 19 ओवर में 3 विकेट खोकर 175 रन बना चुकी थी वह पारी खत्म होने तक निर्धारित 20 ओवर्स में 7 विकेट खोकर 176 रन ही बना सकी।

रोहन कदम-मनीष पांडे ने दिलाई जबरदस्त शुरुआत

रोहन कदम-मनीष पांडे ने दिलाई जबरदस्त शुरुआत

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में खेले गये इस मैच में विदर्भ की टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। जवाब में विदर्भ के सलामी बल्लेबाज रोहन कदम ने विस्फोटक शुरुआत की और 56 गेंदों में 7 चौके एवं 4 छक्के लगाकर 87 रनों की पारी खेल डाली। कप्तान मनीष पांडे ने भी 42 गेंदों में 2 चौके और 3 छक्के लगाकर 54 रनों की पारी खेली। रोहन कदम और मनीष पांडे की जोड़ी ने पहले विकेट के लिये 132 रनों की साझेदारी की। हालांकि ललित यादव ने दोनों सलामी बल्लेबाजों का विकेट लेकर अपनी टीम के लिये लय को वापस हासिल किया।

आखिरी ओवर के रोमांच में हारा विदर्भ, फाइनल में होगा 2019 का एक्शन रिप्ले

आखिरी ओवर के रोमांच में हारा विदर्भ, फाइनल में होगा 2019 का एक्शन रिप्ले

वहीं रनों का पीछा करने उतरी विदर्भ की टीम के लिये लगभग हर बल्लेबाज ने जुझारू पारी खेली और अपनी टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन वह अंत में 4 रन से पिछड़ गये। विदर्भ के लिये अथर्व टायडे (32) और गणेश सतीश (31) ने पहले विकेट के लिये 43 रनों की साझेदारी की लेकिन केसी करियप्पा ने टायडे का विकेट लेकर पहला झटका दिया। यहां से अक्षय वाडकर (15), शुभम दुबे (24), जितेश शर्मा (12), अपूर्व वानखेड़े (27*) और अक्षय कार्नेकर (22) ने छोटी-छोटी लेकिन विस्फोटक पारियां खेली, बावजूद इसके टीम जीत की रेखा को पार नहीं कर सकी।

आखिरी दो ओवर्स में विदर्भ की टीम को जीत के लिये 27 रनों की दरकार थी। विदर्भ की टीम ने 19वें ओवर में एक छक्का, एक चौका लगाकर 13 रन बटोरे, जिसके बाद आखिरी ओवर में जीत के लिये उसे 14 रन की दरकार रह गई। कर्नाटक के लिये आखिरी ओवर की पहली गेंद पर विद्याधर पाटिल ने अक्षय कार्नेकर का विकेट ले लिया जो कि खतरनाक नजर आ रहे थे। इसके बाद अगली 4 गेंदों में वह 5 रन ही जोड़ सकी और आखिरी गेंद पर चौका लगा कर मैच को खत्म किया। आपको बता दें कि सैयद मुश्ताक अली के इस सीजन में एक बार फिर 2019 के फाइनल्स का रिपीट टेलिकास्ट होने वाला है, जहां पर कर्नाटक और तमिलनाडु की टीम के बीच फाइनल खेला गया था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, November 21, 2021, 18:16 [IST]
Other articles published on Nov 21, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X