महिला कबड्डी लीग के सेमीफाइनल व फाइनल मैच लखनऊ में

Posted By:
womens kabaddi league semifinal and final match in kd singh babu stadium

लखनऊ: यूपी में पहली बार निजी स्तर पर ग्रामीण और शहरी बालिकाओं की कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेश स्तरीय महिला कबड्डी लीग के लिए विभिन्न जिलों में भिड़ंत हो रही है। यह आयोजन अंश वेलफेयर फाउंडेशन अन्य संस्थाओं के साथ मिलकर कर रहा है। 28, 29, और 30 अप्रैल को लखनऊ के केडी सिंह बाबू स्टेडियम में इस प्रतियोगिता का सेमी फाइनल व फाइनल खेला जाएगा। 18 अप्रैल को लखनऊ और 23 अप्रैल को कानपुर में क्वार्टर फाइनल होगा।

'हमसे न लो पंगा' का क्वार्टर फाइनल मैच लखनऊ के एसआर ग्लोबल स्कूल, बख्शी का तालाब में सुबह 10 बजे से होगा। प्रदेश में पहली बार निजी स्तर पर डब्ल्यूकेएल (महिला कबड्डी लीग) हो रही है। इस खेल प्रतियोगिता के माध्यम से बालिकाओं विशेषकर ग्रामीण इलाके की बेटियों को बड़ा मंच दिया जा रहा है।

इस कबड्डी लीग की गणतंत्र दिवस के मौके पर बख़्शी का तालाब ब्लाक से विधिवत शुरुआत हुई थी। फैजाबाद, उन्नाव, शाहजहांपुर, सीतापुर, मैनपुरी सहित विभिन्न जिलों में क्वार्टर फाइनल मैच हो चुके हैं। जिलों में क्वार्टर फाइनल जीतने वाली सीनियर और जूनियर टीमें लखनऊ आएंगी। इसके अलावा 12 टीमें वाइल्ड कार्ड इंट्री के जरिये सीधे लखनऊ आ सकेंगी। राजधानी के बाबू केडी सिंह स्टेडियम में सेमीफाइनल और फाइनल मैच होंगे।

यूपी लेवल की इस कबड्डी लीग में लड़कियों में भारी उत्साह देखने को मिल रहा है। ग्रामीण इलाके की बेटियाँ कबड्डी में पूरा दमखम दिखा रही हैं। इस कबड्डी प्रतियोगिता से बालिकाओं में गजब का आत्मविश्वास देखने को मिल रहा है। फाइनल मैच में कई मंत्रियों के अलावा राज्यपाल और मुख्यमंत्री को आमंत्रित किया गया है। 3 मई को राज्यपाल राम नाईक कबड्डी लीग के विजेता/उपविजेता टीमों को पुरस्कृत करेंगे। वहीं राज्यपाल लीग में सहयोग करने वालों को सम्मानित करेंगे। इस मौके पर लीग की स्मारिका का विमोचन भी होगा।

'हमसे न लो पंगा' में कबड्डी के माध्यम से नारी सशक्तिकरण पर बल दिया जा रहा है। इसमें कोई भी स्कूल हिस्सा ले सकता है। इसमें आयु वर्ग 10 से 14 वर्ष (जूनियर) और आयु 15 से 18 वर्ष (सीनियर) टीमें होंगी। प्रतियोगिता के लिए स्कूल या फिर लड़कियों को कोई शुल्क नहीं देना है। आयोजन समिति द्वारा सेमीफाइनल और फाइनल के लिए लखनऊ आनेवाले खिलाड़ियों के रहने, खाने का सारा इंतज़ाम किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: IPL 2018: सिक्सर किंग रसेल से पार पाना नहीं है आसान

Story first published: Tuesday, April 17, 2018, 16:16 [IST]
Other articles published on Apr 17, 2018

MyKhel से प्राप्त करें ब्रेकिंग न्यूज अलर्ट