सौरव घोषाल ने खत्म किया चैम्पियनशिप में 3 साल का सूखा, मलेशियन ओपन जीतकर रचा इतिहास

Saurav Ghosal
Photo Credit: SAI Media Twitter

नई दिल्ली। भारतीय स्क्वॉश स्टार सौरव घोषाल ने शनिवार को इतिहास रचते हुए मलेशियन ओपन चैम्पियनशिप 2021 का खिताब जीत लिया है और ऐसा करने वाले पहले भारतीय प्लेयर बन गये हैं। मलेशियन ओपन चैम्पियनशिप के फाइनल मैच में सौरव घोषाल का सामना कोलंबिया के मिगेल रोड्रिगेज से हुआ जिन्हें मात देकर घोषाल स्क्वाष में पुरुष सिंग्लस की यह चैम्पियनशिप जीतने वाले पहले भारतीय बन गये हैं। दूसरी वरीयता प्राप्त सौरव घोषाल को भारतीय स्क्वॉश का चेहरा माना जाता है जिन्होंने टॉप वरीयता प्राप्त रोड्रिगेज को फाइनल में चारों खानों चित्त करते हुए 11-7, 11-8 और 13-11 की स्कोरलाइन से मात दी।

55 मिनट तक चले इस टूर्नामेंट में खिताब जीत कर भारतीय स्क्वॉश प्लेयर सौरव घोषाल ने खिताब जीतकर पिछले 3 सालों से चले आ रहे अपने खिताब के सूखे को भी खत्म किया। घोषाल ने इस चैम्पियनशिप से पहले अपना आखिरी पीएसए टाइटल 2018 में जीता था जब उन्होंने कोलकाता अंतर्राष्ट्रीय ओपन में जीत हासिल की थी। इस जीत के साथ ही सौरव घोषाल के नाम 10 पीएसए टाइटल हो गये हैं।

और पढ़ें: क्या IPL 2022 के मेगा ऑक्शन से पहले हैदराबाद को अलविदा कहने वाले हैं राशिद खान, इरफान पठान ने दिया बड़ा हिंट

क्वालालंपुर में एक भी मैच में हार का सामना नहीं करने वाले घोषाल ने खिताब जीतने के बाद कहा,'काफी अच्छा महसूस कर रहा हूं, अपने इस सफर के दौरान मैंने कई अच्छे खिलाड़ियों को मात दी। टूर्नामेंट का फाइनल काफी शानदार मैच था। मैच में जितना मुश्किल तीसरा सेट था, दूसरा उससे कम नहीं था। मैं 0-7 से पिछड़ रहा था। यह जीत मेरी मेहनत का फल है।'

गौरतलब है कि सौरव घोषाल ने पहले सेट में 11-7 की आसान जीत हासिल की थी, जबकि दूसरे सेट में 7 प्वाइंट से पिछड़ने के बाद वापसी की और 11-8 से जीत हासिल की। वर्ल्ड रैंकिंग में 15वें पायदान पर काबिज सौरव घोषाल को 12वें पायदान पर काबिज मिगेल रोड्रिगेज से तीसरे सेट में कड़ी चुनौती मिली। सौरव घोषाल ने अच्छी बढ़त हासिल की लेकिन रोड्रिगेज ने उन्हें कड़ी चुनौती दी।

और पढ़ें: IND vs NZ: फिर टीम को मंझधार में छोड़ पवेलियन लौटे रहाणे-पुजारा, फ्लॉप शो से बढ़ी मुश्किलें

रोड्रिगेज को तीसरे सेट में 10-9 के स्कोर पर गेम प्वाइंट मिला था लेकिन घोषाल ने फ्रंट कोर्ट से काउंटर कर के गेम प्वाइंट को खराब कर दिया। सौरव घोषाल ने मैच को अपने दूसरे गेम प्वाइंट में बैकहैंड ड्राइव मारकर जीत हासिल की। आपको बता दें कि कई खिलाड़ी स्क्वॉश और बैडमिंटन को लेकर अक्सर कई लोग अंतर करने में कन्फ्यूज हो जाते हैं, जिसको लेकर हम आपको बता दें कि बैडमिंटन में शटल कॉक का इस्तेमाल किया जाता है तो वहीं पर स्क्वॉश में रबर की गेंद का इस्तेमाल होता है।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, November 28, 2021, 12:53 [IST]
Other articles published on Nov 28, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X