AUS vs IND: स्मिथ पर चीटिंग करने के आरोपों पर भड़के कोच जस्टिन लैंगर, जानें क्या कहा

Australia vs India Justin Langer Backs Steve Smith over Sydney pitch-scuffing story: नई दिल्ली। भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच जारी बॉर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज (Border Gavaskar Test Series) के तीसरे मैच में भारतीय टीम ने आखिरी दिन जबरदस्त तरीके से वापसी की और टीम के लिये एक यादगार ड्रॉ कराने में सफल रही। इस मैच में वैसे तो कई चीजें यादगार रहीं लेकिन इसके बावजूद यह मैच कुछ वजहों से विवाद में रहा। इसमें से एक विवाद तब भी हुआ जब मैच के आखिरी दिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज भारतीय खिलाड़ियों को आउट करने में नाकाम हो रहे थे तो स्टीव स्मिथ (Steve Smith) पिच से छेड़छाड़ करते नजर आये और पंत (Rishabh Pant) के बैटिंग गार्ड को मिटाते हुए दिखाई दिये।

ब्रिस्बेन टेस्ट से पहले भारतीय खिलाड़ियों से शर्मनाक बर्ताव, खुद कर रहे होटल का टॉयलेट साफ

इसके बाद खेल जगत के दिग्गज खिलाड़ियों ने न सिर्फ स्टीव स्मिथ (Steve Smith) की इस हरकत की आलोचना की बल्कि 2 साल पहले बॉल टैंपरिंग की वजह से एक साल का बैन झेलकर वापसी करने वाले खिलाड़ी पर दोबारा चीटिंग करने की कोशिश के आरोप भी लगाये।

AUS vs IND: ब्रिस्बेन टेस्ट से बाहर हो सकते हैं विल पुकोवस्की, कंधे में लगी चोट

स्मिथ पर लग रहे हैं झूठे आरोप

स्मिथ पर लग रहे हैं झूठे आरोप

इस बीच ऑस्ट्रेलियाई टीम के कोच जस्टिन लैंगर (Justin Langer) ने इस दिग्गज बल्लेबाज का बचाव करते हुए कहा कि यह सभी आरोप बकवास, बेकार और लिमिट के बाहर हैं। इतना ही नहीं कोच लैंगर (Justin Langer) का मानना है कि स्टीव स्मिथ (Steve Smith) तो क्रीज के पास ही नहीं गये और उन पर लगाये जा रहे सभी आरोप झूठे हैं।

उन्होंने कहा, 'इन आरोपों को लेकर मैंने स्मिथ (Steve Smith) से न सिर्फ पर्सनली बल्कि सभी के सामने बात की है। मैं साफ कहना चाहता हूं कि अगर कोई एक मिलिसेकेंड के लिये भी यह मानता है कि उसने कुछ गलत किया है तो वह अपनी सीमा से बाहर जा रहा है। सिडनी का विकेट सपाट था और किसी क्रंकीट की तरह ठोस भी था, अगर उस पिच पर छेड़खानी करनी हो तो आपको कम से कम 15 इंच के स्पाइक्स चाहिये और मैं साफ कर दूं कि वह कभी क्रीज के पास भी नहीं गया।'

मिसाल की तरह है स्मिथ का व्यवहार

मिसाल की तरह है स्मिथ का व्यवहार

लैंगर (Justin Langer) का मानना है कि बॉल टैंपरिंग विवाद से वापसी करने के बाद से स्टीन स्मिथ (Steve Smith) का व्यवहार पूरी तरह से बदल गया है और वह क्रीज पर जो भी करते हैं टीम के लिये करते हैं।

उन्होंने कहा,'वह क्रीज पर जो कुछ भी करता है सिर्फ टीम के लिये करता है और खेल के बारे में ही सोचता रहता है। जब से स्टीव स्मिथ (Steve Smith) ने बैन के बाद से वापसी की है उसका व्यवहार न सिर्फ मैदान के अंदर बल्कि बाहर भी मिसाल की तरह है। वह हर चीज का जवाब अपने बल्ले से देने में विश्वास रखता है। इंग्लैंड दौरे पर जब उसने वापसी की तो उसे काफी अपमान सहना पड़ा लेकिन उसके बावजूद मैंने उसे सिर्फ बल्ले से जवाब देते हुए देखा।'

सिडनी में कर रहे थे पिच से छेड़छाड़

सिडनी में कर रहे थे पिच से छेड़छाड़

गौरतलब है कि सिडनी में ड्रॉ रहे टेस्ट के आखिरी दिन पहले सेशन के ड्रिंक्स ब्रेक्स के दौरान स्मिथ (Steve Smith) ऋषभ पंत (Rishabh Pant) का बैटिंग गार्ज मिटाने की कोशिश करते नजर आये थे, जिसका वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर फैन्स समेत खेल जगत के कई पूर्व खिलाड़ियों ने स्मिथ (Steve Smith) की जमकर आलोचना की।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Wednesday, January 13, 2021, 16:49 [IST]
Other articles published on Jan 13, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X