WTC फाइनल के लिये पिच पर कचरा बिखेर के बल्लेबाजी कर रहे कीवी बल्लेबाज, जानें क्या है कारण

Devon Conway practices with kitty litter on pitch to face Indian spin attack| Oneindia Sports

नई दिल्ली। आईसीसी की ओर से पहली बार आयोजित की जा रही विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल मैच 18 जून से साउथैम्पटन के मैदान पर भारत और न्यूजीलैंड की टीम के बीच खेला जाना है, जहां पर दोनों टीमों के पास सालों से चले आ रहे आईसीसी खिताब के सूखे को मिटाने का मौका है। न्यूजीलैंड की टीम अब तक सिर्फ एक बार ही आईसीसी की कोई भी ट्रॉफी जीत सकी है और उसे जीते हुए भी 2 दशक से ज्यादा का समय बीत चुका है। वहीं पर भारतीय टीम की बात करें तो 2013 की आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के बाद टीम ने फाइनल और सेमीफाइनल तक का सफर कई बार किया है लेकिन खिताब जीतने में नाकाम रही है।

ऐसे में दोनों टीमें खिताब जीतने के इस मौके को गंवाना नहीं चाहती है। खिताब जीतने को लेकर दोनों टीमें कितनी गंभीर है इसका पता प्रैक्टिस से चल रहा है। विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल की तैयारियों में जुटी न्यूजीलैंड की टीम अगले हफ्ते इंग्लैंड पहुंचेगी जहां पर उसे 2 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है, इससे पहले कीवी टीम ने अपने घर पर प्रैक्टिस कैम्प लगाया है।

और पढ़ें: न्यूजीलैंड ने 20 खिलाड़ियों को थमाया सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट, इन 2 प्लेयर्स को पहली बार मिला करार

इस प्रैक्टिस कैम्प में न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के बल्लेबाज डेवॉन कॉनवे टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में भारतीय स्पिनर्स का सामना करने के लिये पिच पर कचरा डालकर प्रैक्टिस करते नजर आये हैं। कॉनवे का मानना है कि पिच पर कचरा बिखेर कर प्रैक्टिस करने से उन्हें भारतीय स्पिनर्स के खिलाफ बल्लेबाजी करने में मदद मिल सकती है।

कीवी प्रसारणकर्ता स्पार्क स्पोर्ट से बात करते हुए कॉनवे ने कि ऐसा करने के पीछे मेरा मुख्य कारण है कि अगर गेंद किसी रफ जगह पर पड़कर आपके पास आये तो आप उसे खेलने के लिये होने चाहिये। पिच पर कचरा बिखेरकर खेलने से उन्हें स्पिन गेंदबाजों की वैरिएशन खेलने में आसानी होगी, खास तौर से जब पिच पर फुटमार्क बन गये हों और गेंद वहां पर गिरकर आये।

और पढ़ें: 'भारतीय होने के चलते कहना पड़ता है महान', माइकल वॉन ने कोहली-विलियमसन को लेकर फिर दिया विवादित बयान

कॉनवे का मानना है कि भारतीय स्पिनर्स को खेलना आसान नहीं है और ऐसे में यह प्रैक्टिस तैयारी में मदद करती है क्योंकि गेंदबाजों की तरह अभ्यास में भी इस पर बल्लेबाजी करना आसान नहीं है। अगर आपको भारतीय स्पिनर्स के खिलाफ अच्छा करना है तो उनके खिलाफ गेम प्लान सोचना होगा, यह मैच से पहले की तैयारी मात्र है, बाकी वहां पर क्या होने वाला है आप प्रेडिक्ट नहीं कर सकते।

गौरतलब है कि डेवोन कॉनवे को इंग्लैंड के खिलाफ 2 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिये चुना गया है, जहां पर यह बल्लेबाज अपना डेब्यू करते हुए नजर आ सकते हैं, ऐसे में अगर उनका प्रदर्शन शानदार रहा तो भारत के खिलाफ विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में भी मौका दिया जा सकता है।

आपको बता दें कि न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने डेवॉन कॉनवे के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में जगह दी है तो वहीं पर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज का हिस्सा भी बनाया है। कीवी टीम को इंग्लैंड के खिलाफ अपना पहला मैच 2 जून से लंदन में जबकि दूसरा मैच 10 जून से बर्मिंघम में खेलना है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Friday, May 14, 2021, 17:03 [IST]
Other articles published on May 14, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X