IND vs ENG: हार बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं विराट कोहली, जानें क्यों कार्तिक ने दिया ऐसा बयान

India vs England 2nd ODI dinesh Karthik on Virat Kohli's Nature says cannot handle loss very well competitive: नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक का मानना है कि कप्तान कोहली काफी आक्रामक और प्रतिस्पर्धात्मक कप्तान हैं जिसका सकारात्मक प्रभाव न सिर्फ टीम के नतीजों में नजर आता है बल्कि उसका फायदा टीम के बाकी खिलाड़ियों पर भी देखने को मिलता है। कार्तिक ने 2019 विश्व कप समेत विराट कोहली की कप्तानी में काफी क्रिकेट खेला है और उनका है कि कोहली अकेले ऐसे खिलाड़ी नहीं है जो कि अपने पूरे दिल के साथ मैदान पर उतरते हैं बल्कि टीम में ऐसे खिलाड़ियों की भरमार है जो कि अपने आप में कई तरीकों से आक्रामक स्वाभाव रखते हैं।

IPL 2021: क्या आखिरी बार येलो जर्सी में उतरेंगे धोनी, मुंबई के लिये सीएसके ने भरी उड़ान

उल्लेखनीय है कि भारतीय टीम ने मंगलवार से शुरू हुए वनडे सीरीज के पहले मैच में 66 रनों से जीत हासिल कर सीरीज में 1-0 से बढ़ोतरी हासिल कर ली है। अब सीरीज का दूसरा मैच शुक्रवार को खेला जायेगा जिसमें भारतीय टीम जीत हासिल कर सीरीज पर कब्जा जमाना चाहेगी जबकि इंग्लैंड की टीम वापसी करना चाहेगी। अगर भारतीय टीम बचे हुए दोनों मैच में जीत हासिल कर लेती है तो वनडे रैंकिंग में पहले नंबर पर काबिज हो जायेगी।

IPL 2021: धोनी-कोहली नहीं बल्कि 23 साल का यह खिलाड़ी है भारत का सबसे अमीर क्रिकेटर

भारतीय टीम में भरमार है आक्रामक खिलाड़ियों की

भारतीय टीम में भरमार है आक्रामक खिलाड़ियों की

स्काई स्पोर्टस के साथ बात करते हुए दिनेश कार्तिक कहा,'हम कोहली की खूबियों और उसकी बॉडी लैंग्वेंज को लेकर काफी बातें करते हैं लेकिन उनके अलावा भी टीम में कई महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं जो कि मैदान पर अपने हिसाब से आक्रामक रहते हैं। आप हार्दिक पांड्या को ही देखिये वो पूरे मैच के दौरान किसी न किसी तरीके से सक्रिय नजर आते हैं और उन खिलाड़ियों में से हैं जो कि मैच को आसानी से नहीं छोड़ना चाहते हैं।'

कार्तिक ने आगे कहा,'आप रोहित शर्मा को देख लीजिये, वह काफी शांत नजर आते हैं लेकिन काफी अग्रेसन के साथ खेलते हैं। वह बहुत ही आक्रामक हैं जो कि उनकी बॉडी लैंग्वेंज से शायद नजर न आये लेकिन वो सबकुछ जीतना चाहते हैं। भुवनेश्वर कुमार की बात करें तो वह भी कोहली की तरह को हार को बर्दाश्त करने वालों में से नहीं जो कि शायद उनके व्यवहार में देखने को न मिले लेकिन भारतीय टीम ऐसे कैरेक्टर्स से भरी पड़ी है। विराट कोहली इन सब का नेतृत्व करते हैं, जाहिर है कि वो कप्तान हैं और सामने से नेतृत्व करना उनका काम है।'

हार की कगार से भारत ने की वापसी

हार की कगार से भारत ने की वापसी

गौरतलब है कि भारतीय टीम ने मंगलवार को खेले गये पहले वनडे मैच में 66 रनों से जीत हासिल की। इस पर बात करते हुए कहा कि यह मेजबानों की ओर से किये गये बेहद शानदार प्रयत्न का फल है जो कि हाथ से निकल जाने के बाद भी जीत को हासिल किया। आपको बता दें कि 318 रनों का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम ने महज 15 ओवर में 135 रन बना लिये थे और कोई विकेट नहीं खोया था, लेकिन इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने वापसी की और 120 रनों के अंदर इंग्लैंड के 10 विकेट हासिल किये।

कोहली ने जो कहा वो करके दिखाया

कोहली ने जो कहा वो करके दिखाया

कार्तिक ने इसको लेकर कहा,'अगर आपको याद हो तो विराट कोहली ने टॉस जीतकर कहा था कि वह चाहते हैं कि कोशिश करें और पहले मैच में जीत हासिल करे। वह नहीं चाहते कि सीरीज में हर बार टीम को लड़कर वापसी करने पड़े और उन्होंने ठीक वैसा ही किया। मुझे लगता है कि यह भारतीय टीम विश्वास जताती है कि वह किसी भी परिस्थिति से जीत हासिल कर सकती है। अगर आप 135 रन पर बिना किसी विकेट के बाद अगले 116 रनों में पूरी टीम को आउट कर देते हैं तो इसके लिये बेहद शानदार कोशिश की जरूरत होती है। 10 में से 9 विकेट तेज गेंदबाजों ने हासिल किये, जिसका मतलब है कि उन्होंने कुछ तो सही किया होगा। इंग्लैंड को मिडिल ओवर्स में ज्यादा विकेट नहीं मिल सकी और भारत मैच को लेकर निकल गया।'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, March 25, 2021, 18:41 [IST]
Other articles published on Mar 25, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X