IPL 2021: आउट में बदल गए 'छक्के', आईपीएल इतिहास के 5 सबसे जबरदस्त कैच

नई दिल्लीः सफेद गेंद क्रिकेट में फील्डिंग के मानक बहुत ही अच्छे हो गए हैं। T20 क्रिकेट में तो खासकर अविश्वसनीय फील्डिंग देखने को मिलती है और इंडियन प्रीमियर लीग भी इसकी अपवाद नहीं है। पिछले सीजन के दौरान आईपीएल में बाउंड्री पर जबरदस्त कैच लपके गए, बहुत ही शानदार तरीके से छक्कों को रोका गया और ऐसे करतब दिखाए गए कि दर्शकों ने दांतों तले उंगली दबा ली। 2008 से लेकर अब तक आईपीएल में फील्डिंग के मानक लगातार ऊंचे ही होते जा रहे हैं।

यह तो हम सभी जानते हैं कि कैच ही मैच को जिताते हैं और हमने अब यह भी देखा है की फील्डिंग में 1 या 2 रन रोकना भी कितना अहम हो चुका है। आईपीएल का नया सीजन यानी की 2021 में आईपीएल प्रतियोगिता 9 अप्रैल से शुरू हो रही है और हमारे लिए यह एक बेहतरीन मौका है कि हम पलट कर देखें कि लीग इतिहास में अभी तक पांच ऐसे कौन से कैच हैं जिनको बेस्ट कहा जा सकता है।

1. क्रिस लिन (केकेआर बनाम आरसीबी, 2014)

1. क्रिस लिन (केकेआर बनाम आरसीबी, 2014)

बात 2014 की है जब शारजाह में कोलकाता और बेंगलुरु की टीम के बीच में चल रहा था। आरसीबी की टीम को अंतिम ओवर में 9 रन चाहिए थे और एबी डिविलियर्स के साथ एल्बी मोर्कल क्रीज पर मौजूद थे। पहली 3 गेंद सिंगल गई और फिर ए बी डिविलियर्स ने चौथी गेंद पर स्ट्राइक ले ली उस समय केवल 6 रन ही चाहिए थे। विनय कुमार अंतिम ओवर फेंक रहे थे और उन्होंने एक छोटी गेंद डाली। दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज ने इस पर एक बड़ा शॉट खेला ताकि छक्के के साथ मैच फिनिश किया जा सके लेकिन गेंद का बल्ले के साथ बहुत अच्छा संपर्क नहीं हुआ और गेंद काफी देर तक हवा में रही और उस समय बाउंड्री पर मौजूद फील्डर पर सबकी निगाहें टिक गई।

क्रिस लिन रस्सी के कुछ ही इंच दूर खड़े थे। उन्होंने अपने आप को इस तरीके से स्थापित किया हुआ था कि वह कैच लेने की पोजीशन में थे लेकिन उनका अगला पैर स्लिप हो गया। हालांकि इसके बावजूद भी वे अपनी आंखों को बॉल से नहीं हटा पाए जबकि वह लगभग गिरने को थे। उन्होंने हवा में ही कैच लिया और किसी तरह अपनी पीठ के बल गिरे, तब वह बाउंड्री से कुछ ही दूरी पर थी। केकेआर ने क्रिस लिन के करतब के साथ केवल 2 रनों से यह मुकाबला जीत लिया था।

IPL 2021: KKR के लिए बड़ी खबर, 2 अप्रैल को भारत आ रहे हैं पैट कमिंस

2. एबी डी विलियर्स (आरसीबी बनाम एसआरएच, 2018)

2. एबी डी विलियर्स (आरसीबी बनाम एसआरएच, 2018)

फील्डिंग की दुनिया में एबी डिविलियर्स को आधुनिक क्रिकेट का बेहतरीन एथलीट माना जाता है। उन्होंने इस बात का बेस्ट उदाहरण आईपीएल 2018 के एक मुकाबले में दिया। तब सनराइजर्स सनराइजर्स हैदराबाद की टीम बेंगलुरु में लीग मैच खेलने के लिए आई थी। बेंगलुरु की टीम इस बार फेवरेट लग रही थी क्योंकि उसने हैदराबाद को जीत के लिए 219 रनों का टारगेट दिया था लेकिन हैदराबाद ने भी एलेक्स हेल्स के साथ मिलकर अच्छी शुरुआत की थी। चेज करते हुए मामला 18वें ओवर तक आ गया और एलेक्स हेल्स ने जीत का बीड़ा उठाते हुए मैदान में 1 गेंद को मिडविकेट बाउंड्री की ओर मारा।

एबी डिविलियर्स ने तब खुद को बाउंड्री के पास खींचते हुए एक बेहतरीन कैच लिया था। गेंद एबी डी विलियर्स के पास तैरती हुई आ रही थी और उन्होंने बिल्कुल सही टाइमिंग पर अपने आप को जंप किया और कैच पकड़ा जो कि एक साफ छक्के के लिए जा रहा था। दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी ने हवा में ही अपने दाएं हाथ से क्या कैच लपका था। इतनी बेहतरीन जंप के बावजूद भी उन्होंने अपनी शेप को नहीं खोया और वे बाउंड्री के भीतर ही जाकर गिरे। इसके बाद विराट कोहली ने जो रिएक्शन दिया था वह देखने लायक था क्योंकि यह एक सुपरमैन प्रयास था।

3. ट्रेंट बोल्ट (आरसीबी बनाम डीडी, 2018)

3. ट्रेंट बोल्ट (आरसीबी बनाम डीडी, 2018)

यह भी 2018 की बात है जब दिल्ली और बेंगलुरु की टीम में मैच हो रहा था तब ट्रेंट बोल्ट ने एक ऐसा कैच लिया था कि इसने क्रिकेट जगत की चर्चाओं को हासिल कर लिया था। दिल्ली की टीम 175 रनों का टारगेट डिफेंड कर रही थी और विपक्षी टीम की ओर से विराट कोहली और एबी डिविलियर्स एक भागीदारी को बना रहे थे। लग रहा था कि दोनों बल्लेबाज अपनी टीम को जीत तक लेकर जाएंगे लेकिन कोहली के आउट होने के बाद मैच हल्का सा दिल्ली के पक्ष में झुक गया था।

IPL इतिहास के 5 मुकाबले जब सबसे कम रन बनाकर भी टीमों ने पलट दी बाजी

उस समय हर्षल पटेल ने कोहली को फुलटॉस गेंद लेफ्ट साइड पर फेंकी जो की बाउंड्री की ओर हिट कर दी गई। कोहली ने कलाइयों के साथ बल्ला घुमाते हुए गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाने का लक्ष्य रखा था। गेंद रॉकेट स्पीड से तैरती हुई बाउंड्री के पास जाने के लिए तैयार थी लेकिन यह ट्रेंट बौल्ट थे जो मिडविकेट बाउंड्री पर खड़े थे और उन्होंने बहुत ही खूबसूरती से गेंद का रास्ता भांप लिया साथ ही खुद को हवा में उछाल दिया। उन्होंने हवा में ही गेंद को लपका जो कि उनके उल्टे हाथ से किया गया प्रयास था। लेकिन बोल्ट की स्पीड इतनी ज्यादा थी कि वह अपने आप को बाउंड्री के पार खींचे चले जा रहे थे।

हालांकि उन्होंने किसी तरह से रस्सी के भीतर अपने आप को रोकने में सफलता प्राप्त की। उनकी छाती ने लगभग बाउंड्री को टच कर ही लिया था लेकिन बोल्ट ने अपना बैलेंस नहीं खोया। इसके बाद सबको ऐसा जादुई कैच देखने के बाद विश्वास नहीं हुआ और कुछ समय यह बात पचाने में लगा की बोल्ट के बेहतरीन प्रयास ने कोहली को चलता कर दिया है।

4. कीरोन पोलार्ड (एमआई बनाम सीएसके, 2019)

4. कीरोन पोलार्ड (एमआई बनाम सीएसके, 2019)

मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी कीरोन पोलार्ड जितने भारी-भरकम शरीर के स्वामी हैं उतनी ही बेहतरीन फील्डर भी हैं और उन्होंने अपने करियर में कई ऐसे कैच लिए हैं जिन्होंने फ्रेंस को आश्चर्यचकित कर दिया था। लेकिन उसमें से एक कैच जो हमेशा यादगार रहेगा वह चेन्नई के खिलाफ वानखेड़े में आया था। इस कैच को आईपीएल इतिहास के बेहतरीन कैच में एक कहा जाएगा। यह चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच मुकाबला चल रहा था जहां मुंबई की टीम 170 रनों का टोटल डिफरेंट कर रही थी और चेन्नई सुपर किंग्स की टीम 33 रनों पर ही 2 विकेट गंवाकर संघर्ष करती हुई दिखाई दे रही थी।

तभी गेंदबाज जेसन बेहरेनडॉर्फ ने सुरेश रैना को एक शॉर्ट डिलीवरी फेंकी जिसको बाएं हाथ के स्टाइलिश बल्लेबाज ने डीप पॉइंट बाउंड्री की तरफ उड़ा दिया। उस समय किरोन पोलार्ड बाउंड्री के पास सटकर नहीं खड़े थे और वे अपने आपको कुछ मीटर अंदर कर चुके थे। लेकिन जैसे ही गेंद उनकी तरफ आई तो यह दिग्गज तुरंत खुद को पीछे नहीं कर सका बल्कि उन्होंने अपने पैरों को जमीन पर बनाए रखा। लेकिन जब गेंद उनके बहुत ही करीब आ गई तो उन्होंने खुद को हवा में उछाला और गेंद को लपकने का प्रयास किया। उन्होंने गेंद पकड़ते हुए खुद को मैदान पर पीछे की ओर गिरा हुआ पाया लेकिन उन्होंने अपने आप को संभालते हुए वह कैच बनाए रखा और रस्सी को भी टच नहीं किया। इस कैच के चलते ना केवल उनकी टीम जीतने में सफल रही बल्कि यह सीजन का बेस्ट कैच भी था।

5. डेविड हसी (केकेआर बनाम डीडी, 2010)

5. डेविड हसी (केकेआर बनाम डीडी, 2010)

ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज डेविड हसी को एक चमत्कारिक खिलाड़ी माना जाता था लेकिन अफसोस कि उनका इंटरनेशनल करियर बहुत चमकदार नहीं रहा। हालांकि उनके पास आईपीएल में कुछ वंडरफुल टाइम रहा है। ऐसा ही एक समय था जब उन्होंने अंग्रेज बल्लेबाज पॉल कोलिंगवुड का जबरदस्त कैच लपका था। तब दिल्ली की टीम कोलकाता के खिलाफ फिरोज शाह कोटला में अहम मुकाबला खेल रही थी और यह मामला दिल्ली की पारी के अंतिम ओवर में हुआ था।

तब गेंदबाज चार्ल लैंगेवेल्ट ने कॉलिंगवुड को एक फुलटॉस गेंद फेंकी जिसको बल्लेबाज ने छक्का मारने के मकसद से शार्ट स्ट्रेट बाउंड्री की तरफ उछाल दिया। हसी में तब खुद को लॉन्ग ऑन बाउंड्री के बिल्कुल किनारे पर मौजूद कर लिया। जैसे ही गेंद बाउंड्री के ऊपर तैरती हुई आई तो ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी ने किसी तरह से एक ही प्रयास में गेंद को अपने दोनों हाथों में संभालने में सफलता हासिल की।

हालांकि गेंद रस्सी के पार तेजी से जाती रही लेकिन हसी ने चतुराई दिखाते हुए गेंद को बाउंड्री के भीतर कर दिया। इस प्रयास में हसी की गति ऐसी थी कि वह खुद भी बाउंड्री के पार जा रहे थे। वे रस्सी के पार भी गए लेकिन जल्द ही वापस भी आ गए और उन्होंने अपने सीधे हाथ से वह कैच बहुत ही खूबसूरत तरीके से लपका। उस कैच को तब के सीजन का बेस्ट कैच अवार्ड दिया गया था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Friday, March 26, 2021, 13:51 [IST]
Other articles published on Mar 26, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X