'आप भाग नहीं सकते, देश को जवाब देना होगा', प्रेस कॉन्फ्रेंस में नहीं आने पर पूर्व कप्तान ने कोहली को लताड़ा

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के लिये यूएई में खेले जा रहे टी20 विश्वकप 2021 का कैंपेन अभी तक निराशाजनक रहा है। सुपर 12 के पहले 2 मैचों में हार का सामना करने के बाद भारतीय टीम के लिये सेमीफाइनल की राह लगभग असंभव हो गई है, ऐसे में कोई चमत्कार ही उसे इस वैश्विक टूर्नामेंट के नॉकआउट स्टेज पर पहुंचा सकता है। पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच में 10 विकेट से हार का सामना करने के बाद भारतीय टीम के लिये न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गये दूसरे मैच में जीत की दरकार थी, हालांकि बल्ले और गेंद से शर्मनाक प्रदर्शन करने के चलते विराट सेना के हिस्से जीत नहीं आ सकी। मैच के बाद जब हार को लेकर कप्तान विराट कोहली से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हम साहस से न तो बैटिंग कर सके और न ही गेंदबाजी में बहादुरी दिखाई, यही वजह है कि न्यूजीलैंड हम पर भारी पड़ा।

और पढ़ें: IND vs NZ: हार के बाद भारत के समर्थन में उतरे केविन पीटरसन, हिंदी में ट्वीट कर लोगों से की खास अपील

पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में इतनी बात करने के बाद कप्तान विराट कोहली मैच के बाद होने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस में नजर नहीं आये और उनके बजाय जसप्रीत बुमराह ने मीडिया के सवालों का जवाब दिया। जहां बुमराह ने बहादुरी से मीडिया के सवालों का जवाब दिया तो वहीं पर भारतीय टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन को विराट कोहली की गैरमौजूदगी नागवार गुजरी है और इसको लेकर उन्होंने कोहली की काफी खिंचाई भी की है।

और पढ़ें: T20 WC में भारत के खराब प्रदर्शन के पीछे खिलाड़ी नहीं BCCI जिम्मेदार, लगातार कर रहा बड़ी गलती

कोहली को देना होगा देश को जवाब

कोहली को देना होगा देश को जवाब

पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच में हार के बाद कप्तान विराट कोहली मीडिया के सवालों का जवाब देने आये थे लेकिन न्यूजीलैंड से मिली हार के बाद उन्होंने अपनी जगह बुमराह को भेज दिया। मोहम्मद अजहरुद्दीन ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि आप लोगों के सवालों का जवाब देने से भाग नहीं सकते हैं, खास तौर पर तब जब आपकी हार से भारत के सेमीफाइनल में पहुंचने का रास्ता लगभग बंद हो गया है। इससे सही संदेश नहीं जाता है और लगता है कि आप पहले ही नतीजे को स्वीकार कर चुके हैं।

एबीपी न्यूज से बात करते हुए अजहरुद्दीन ने कहा,'अगर आप हार जाते हैं तो इसमें कोई शर्म की बात नहीं है, लेकिन आपको सामने आकर बोलने की जरूरत होती है। जब लोग आपको सुनेंगे तो कम से कम वो हार के पीछे की वजह समझ पायेंगे। बुमराह के बात करने और कप्तान/कोच के बात करने में फर्क होता है। लोगों से आप भाग नहीं सकते, आपके लिये उनका सामना करना जरूरी है। आपको देश का सामना करना ही होगा और सामने आकर बोलना ही होगा। अगर आप सामने आकर बात नहीं करते हैं तो लोग कुछ भी सोचेंगे और बेवजह की अफवाह फैलती चली जायेंगी।'

जीत में आना, हार पर भागना ठीक नहीं

जीत में आना, हार पर भागना ठीक नहीं

अजहरुद्दीन ने आगे बात करते हुए सिर्फ भारत की जीत पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में आना और हारने पर भागना किसी भी कप्तान के लिये ठीक नहीं है। यह सही लीडर की पहचान नहीं है, हालांकि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि कोहली ने किस वजह से मीडिया के साथ बात करने से इंकार किया। पूर्व कप्तान ने आगे बात करते हुए कहा कि उनके अनुसार भारतीय कप्तान के लिये मैच के नतीजे और खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर सामने से आकर बात करना मुश्किल रहा होगा और शायद यही वजह है कि वो पीसी करने नहीं आये।

कप्तान बनने का मतलब जिम्मेदारी लेना है

कप्तान बनने का मतलब जिम्मेदारी लेना है

उन्होंने आगे बात करते हुए कहा कि जब आप कप्तान बनते हैं तो आपको जिम्मेदारी लेनी पड़ती है। जब आप टीम का प्रतिनिधित्व करते हैं तो ऐसी चीजें होती रहती हैं। अगर आप जीत के बाद पीसी करने आते हैं और हारने के बाद नहीं तो यह दर्शाता है कि आप सिर्फ अच्छे समय में टीम के साथ खड़े हैं और खराब समय में पिछड़ जाते हैं। यह कप्तान के लिये सही एप्रोच नहीं है। मुझे नहीं पता कि वो किस वजह से पीसी करने नहीं आये लेकिन मुझे लगता है कि उन्हें आना चाहिये था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Monday, November 1, 2021, 19:13 [IST]
Other articles published on Nov 1, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X