560 गरीब बच्चों की मदद के लिये आगे आये क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर, जानें कैसे की हेल्प

नई दिल्ली। क्रिकेट की दुनिया के महानतम खिलाड़ी और फैन्स के बीच क्रिकेट के भगवान के नाम से मशहूर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने 560 गरीब बच्चों की मदद के लिये आगे हाथ बढ़ाया है। सचिन तेंदुलकर ने इस काम के लिये आदिवासी इलाकों में काम करने वाली एक स्वंय सेवी संस्था 'NGO परिवार' के साथ साझेदारी की है जो कि मध्यप्रदेश के सेहोर जिले के दूर दराज इलाके में आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों के लिये सेवा कुटीर बनाने का काम करता है। अपनी इस मुहीम के जरिये सचिन तेंदुलकर ने आदिवासी इलाकों से आने वाले 560 गरीब बच्चों का मदद करने का वादा किया है।

इस मुहीम के तहत सचिन तेंदुलकर का एनजीओ सेहोर जिले के सेवानिया, बीलपति, खापा, नयापुरा और जामुनझील गांव के बच्चों को आर्थिक मदद मुहैया करायेगा जिसके तहत इन बच्चों तक पौष्टिक खाना और शिक्षा से जुड़ी चीजें पहुंचायी जायेंगी। सचिन तेंदुलकर ने जिन बच्चों की मदद के लिये हाथ बढ़ाया है वो उनमें से ज्यादातर बच्चे बरेला भील और गोंड जनजातियों से आते हैं।

IPL 2020: ट्विटर ने आईपीएल के लिये की बड़ी तैयारी, 7 भाषाओं में जारी की स्पेशल इमोजी

सचिन के योगदान के बारे में जानकारी देते हुए एक प्रेस रिलीज जारी की गई है जिसमें कहा गया है,'आदिवासी बच्चों के लिये सचिन (तेंदुलकर) की ओर से की गई यह पहल मध्य प्रदेश के उन बच्चों के प्रति उनकी चिंता को दर्शाता है जो कि सालों से कुपोषण और अशिक्षा से जंग लड़ रहे हैं।'

गौरतलब है कि सचिन तेंदुलकर की ओर से उठाया गया यह कदम बच्चों के लिये लाभदायक होगा खासतौर से समाज के उन बच्चों के लिये जो आर्थिक रूप से बेहद कमजोर होने की वजह से हाशिये पर जीवन जीने को मजबूर हैं। सचिन को यूनिसेफ की ओर से सद्भावना दूत बनाया गया है, जिसके चलते वह आये दिन बच्चों से जुड़े मुद्दों पर अपनी राय रखते नजर आते हैं और उनके विकास के लिये अपना योगदान देते हैं।

Viral: अनुष्का ने शेयर की अपने बेबी बंप की तस्वीर, विराट कोहली ने किया दिल जीतने वाला कमेंट

आपको बता दें कि सचिन तेंदुलकर पहले भी बच्चों से जुड़ी कई मुहिम का हिस्सा बन चुके हैं। उन्होंने हाल ही में मुंबई के एसआरसीसी चिल्ड्रेन हॉस्पिटल के साथ मिलकर उन गरीब बच्चों का मुफ्त इलाज करवाया था जो कि आर्थिक रूप से कमजोर थे।

दिसंबर 2019 में भी सचिन तेंदुलकर 'दुनिया में खुुशियां बांटो' फाउंडेशन मुहिम के साथ हाथ मिलाया था और बच्चों के लिये आधुनिक क्लासरूम को सुचारू रूप से चलाने के लिये सौर ऊर्जा सिस्टम लगवाये थे। इसके अलावा उन्होंने मुंबई के भिवाली में स्थित श्री गडगे महाराज आश्रम स्कूल में स्पोर्टस से जुड़ी सुविधाओं को मुहैया कराने का काम किया था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, September 13, 2020, 22:25 [IST]
Other articles published on Sep 13, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X