सौरव गांगुली का खुलासा, बताया- क्यों सचिन तेंदुलकर नहीं खेलते थे मैच की पहली गेंद

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट इतिहास की बात करें तो सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली की सलामी जोड़ी ने कई यादगार साझेदारियां खेली है। इस जोड़ी ने रनों के मामले में सबसे ज्यादा साझेदारियां की है। भारत के लिये 1996-2007 के बीच इस जोड़ी ने 136 बार साझेदारी की और इस दौरान 6609 रन जोड़ने का काम किया। भारत के लिये गांगुली-सहवाग, सचिन सहवाग की जोड़ी ने भी शानदार पारियां खेली लेकिन सचिन गांगुली की जोड़ी में यह नंबर 1 बनी रही।

और पढ़ें: 'सोशल मीडिया पर लोगों को गाली देना देशभक्ति नहीं होती', हाफिज सईद कहे जाने पर छलका इरफान का दर्द

हालांकि इस पारी को लेकर एक बात हमेशा मशहूर रही कि जब भी जोड़ी मैदान पर जाती थी तो पहली गेंद सचिन की बजाय गांगुली ही खेला करते थे। इस बात को लेकर सौरव गांगुली ने बीसीसीआई के शो में खुलासा किया जिसमें मयंक अग्रवाल से बात करते हुए इसके पीछे की सच्चाई बताई।

और पढ़ें: ICC ने फिर टाला T20 विश्व कप पर फैसला, नाराज BCCI ने किया बड़ा ऐलान

मयंक ने पूछा इस बात के पीछे की सच्चाई

मयंक ने पूछा इस बात के पीछे की सच्चाई

मयंक अग्रवाल ने सौरव गांगुली से 'ओपन नेट्स विद मयंक' में शिररकत करते हुए सवाल पूछा, 'जब आप वनडे में पारी की शुरुआत करते थे तो क्या सचिन पाजी आपको हमेशा पहली गेंद खेलने के लिए कहते थे?'

इसके जवाब में गांगुली ने कहा, 'हमेशा। उन्होंने हमेशा ऐसा किया। उसके (सचिन) पास इसका जवाब भी होता था। मैं उन्हें कहता था कि कभी-कभार तुम भी पहली गेंद खेला करो। हमेशा मुझे ही पहली गेंद खेलने को कहते हो। उनके पास इसके दो जवाब होते थे।'

सचिन के पास हमेशा ऐसा करने का था कारण

सचिन के पास हमेशा ऐसा करने का था कारण

सौरव गांगुली ने बताया कि सचिन के पास हमेशा नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े होने का कोई न कोई बहाना होता था।

उन्होंने कहा, 'पहला जवाब होता था, 'मुझे लगता है कि मैं अच्छी फॉर्म में हूं और मुझे नॉन-स्ट्राइकर पर ही रहना चाहिए।' वहीं अगर फॉर्म अच्छा न हो तो उनका दूसरा जवाब होता था, 'मुझे नॉन-स्ट्राइकर पर ही रहना चाहिए, इससे मुझ पर प्रेशर कम होता है।' अच्छे या बुरे फॉर्म के लिए उनके पास एक ही जवाब होता था।'

एक-दो बार सचिन को पहली गेंद खेलने पर किया मजबूर

एक-दो बार सचिन को पहली गेंद खेलने पर किया मजबूर

सौरव गांगुली ने आगे बताया कि करियर में एक दो बार उन्होंने सचिन को पारी शुरुआत करते हुए पहली गेंद खेलने के लिए मजबूर किया था।

उन्होंने कहा, 'जब तक तुम उनसे आगे निकलकर नॉन-स्ट्राइकर पर खड़े नहीं हो जाओ, अब सचिन टीवी पर हैं और अब उन्हें पहली गेंद खेलनी पड़ेगी। ऐसा एक या दो बार हुआ है, मैं उनसे आगे निकलकर नॉन-स्ट्राइकर छोर पर खड़ा हो गया।'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Monday, July 6, 2020, 16:57 [IST]
Other articles published on Jul 6, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X