विराट कोहली या अजिंक्य रहाणे, नटराजन ने बताया कौन है टीम का बेहतर कप्तान

R Ashwin lays out difference between Virat Kohli & Ajinkya Rahane's captaincy | वनइंडिया हिंदी

Virat Kohli or Ajinkya Rahane T Natarajan reveals Who is better captain for team India: नई दिल्ली। भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच हाल ही में समाप्त हुई टेस्ट सीरीज में जहां भारतीय टीम ने ऐतिहासिक जीत हासिल की तो वहीं पर युवा खिलाड़ियों ने जो भी मौके मिले उसे भुनाया और जबरदस्त प्रदर्शन किया। भारतीय टीम के तेज गेंदबाज टी नटराजन (T Natarajan) जो कि इस दौरे पर एक नेट बॉलर के रूप में गये थे उनके लिये यह दौरा किसी सपने से कम नहीं रहा। नटराजन (T Natarajan) ने इस दौरे पर पहले वनडे क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया और फिर टी20 में सीरीज जिताने में अहम भूमिका निभाई और फिर गाबा के मैदान पर टेस्ट क्रिकेट में अपना ड्रीम डेब्यू किया।

इसके साथ ही नटराजन (T Natarajan) भारतीय टीम के लिये किसी दौरे पर तीनों प्रारूप में डेब्यू करने वाले खिलाड़ी बने। वहीं सीरीज से लौटने के बाद भारतीय टीम के इस खिलाड़ी ने अपने दौरे का अनुभव बताते हुए जानकारी दी कि विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे की कप्तानी के दौरान कौन ज्यादा बेहतर है। नटराजन (T Natarajan) ने अपने अनुभव के बारे में बात करते हुए कहा कि उन्हों दोनों ही खिलाड़ियों की कप्तानी में खेलकर काफी अच्छा लगा और दोनों ने ही उनका काफी मनोबल बढ़ाया और सपोर्ट किया।

IND vs ENG: केविन पीटरसन ने बताया- क्या नहीं करने पर होगी BCCI की बेइज्जती, फैन्स के लिये जरूरी

उन्होंने कहा, 'किसी भी खिलाड़ी के लिये ऐसे कप्तानों के बीच डेब्यू करना खुशनसीबी होगी। विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे ने डेब्यू के दौरान मुझे अच्छी तरह से संभाला औक काफी सकरात्मक बातें कहीं जिसने मुझे प्रेरित करने का काम किया। मुझे दोनों की कप्तानी में खेलकर अच्छा लगा।'

नटराजन (T Natarajan) ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अपने पहले मैच के अनुभव की बात करते हुए कहा कि उन्हें इस दौरे पर मौका मिलने की उम्मीद नहीं थी, जिसकी वजह से पहले मैच में उन पर काफी दबाव था।

अब भारत से ही जीत सकते हैं अमेरिकी लॉटरी, 1 अरब का है इनाम

उन्होंने कहा, 'मैं सच कहूं तो मुझे वनडे सीरीज में मौका मिलने की उम्मीद नहीं थी लेकिन मैं अपना काम करने के लिये प्रतिबद्ध था। जब मुझे बताया गया कि मैं इसमें खेलूंगा तो मैं दबाव में था। मैं मौके का फायदा उठाना चाहता था और खेलकर एक विकेट निकालना चाह रहा था जो कि किसी सपने की तरह था।'

वहीं नटराजन (T Natarajan) ने आगे बात करते हुए बताया कि टेस्ट सीरीज में जीतने के बाद उन्हें कैसा महसूस हूआ।

उन्होंने कहा, 'भारतीय टीम के लिये खेलने और जीत हासिल करने की खुशी शब्दों में बयां नहीं की जा सकती। यह एक सपने की तरह था जिसके लिये मुझे मेरे साथियों और कोचों का काफी समर्थन मिला। मैं उनके समर्थन की वजह से ही अच्छा प्रदर्शन करने में सफल रहा।'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, January 24, 2021, 21:46 [IST]
Other articles published on Jan 24, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X