NEW YEAR 2019: क्रिकेट की 10 युवा प्रतिभाएं जो साल 2019 में कर सकते हैं बड़ा कमाल

Here is the Top ten young faces of cricket that will notice in 2019

नई दिल्ली। किसी भी खेल को आगे बढ़ाने में आइकॉनिक खिलाड़ियों के योगदान को कौन नकार सकता है। खासकर क्रिकेट तो एक ऐसा खेल है जिसे देखने के लिए दर्शकों में समझ और धैर्य दोनों ही अपेक्षित होते हैं। फुटबॉल, हॉकी, बैडमिंटन, टेनिस आदि जैसे कई खेलों में उनकी समय सीमा बहुत अहम भूमिका अदा करती है। थोड़े ही मिनटों में खेल खत्म हो जाता है। कहने का मतलब यह है कि बाकी खेलों में छोटी समयसीमा भी अपने आप में एक रोमांच पैदा करती है। वहीं, क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप टी20 में भी तीन घंटे आराम से खर्च होते हैं। हालांकि क्रिकेट देखने और समझने वाले लोग इस खेल की एक-एक गेंद का लुत्फ उठाना जानते हैं, इसके बावजूद भी इसमें कोई शक नहीं कि इस खेल में आइकॉनिक खिलाड़ी अहम रोल निभाते आए हैं।

हर बीतता साल खेल से बड़ी हस्तियों की विदाई लेकर आता है तो वहीं हर नए साल में हमको नए सितारों के उभरने का भी बेसब्री से इंतजार रहता है। हालांकि, हर नया साल बीतकर पुराना हो जाता है। ऐसे में देखते है कि साल 2018 हमको कौन-कौन से ऐसे नए क्रिकेट सितारे देकर जा रहा है जो 2019 को अपनी चमक से रोशन करने की कुव्वत रखते हैं-

पृथ्वी शॉ

पृथ्वी शॉ

अगर युवा प्रतिभाओं की बात करें तो युवाओं का देश भारत इस मामले में भाग्यशाली है। कपिल, गावस्कर के युग के बाद सचिन के युग तक और फिर वर्तमान में कोहली युग के फैलाव तक, भारत हर दौर में युवा प्रतिभाओं से भरपूर रहा है। इस साल की एक ऐसी ही युवा प्रतिभा है- पृथ्वी शॉ। केवल 18 साल की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में अपना पदार्पण करने वाले इस बल्लेबाज में गजब की क्षमताएं देखी जा रही है। माना जा रहा है अगर इस बल्लेबाजों को सही दिशा मिली और मेहनत ऐसे ही जारी रही तो कोहली के बाद भारत को एक भविष्य का सितारा मिल जाएगा। पृथ्वी को वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज में पहला टेस्ट खेलना का मौका मिला। उन्होंने पहले ही मैच में शतक बनाया। जबकि दो मैचों की इस सीरीज में पृथ्वी का कुल स्कोर था 237 रन जो उन्होंने 118.5 के औसत और 94 के स्ट्राइक रेट के साथ बनाए थे। पृथ्वी शॉ ने अब तक 17 फर्स्ट क्लास मैचों में लगभग 61 की औसत से रन बनाए हैं, जबकि उनका स्ट्राइक लगभग 80 का रहा है। फिलहाल पृथ्वी चोट के चलते ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज से बाहर हो चुके हैं। लेकिन इसमें कोई शक नहीं साल 2019 में सबकी नजरें उन पर जमी होंगी।

बॉक्सिंग डे टेस्ट : जसप्रीत बुमराह ने तोड़ा 39 साल पुराना रिकॉर्ड, ऐसा करने वाले पहले एशियाई गेंदबाज

शिमरोन हेटमायर

शिमरोन हेटमायर

विंडीज का ये बल्लेबाज आईपीएल 2019 के लिए 18 दिसंबर को हुई नीलामी में 4.2 करोड़ रुपये में बिककर सुर्खियों में आया था। हालांकि उससे पहले भी यह हार्ड हिटिंग बल्लेबाज भारत के खिलाफ वनडे सीरीज में जोरदार शतक जड़कर अपने जौहर दिखा चुका है। 21 साल के हेटमायर को विंडीज बल्लेबाजी का भविष्य माना जा रहा है। इसमें कोई शक नहीं कि 2019 में उनको देखने के लिए फैंस उत्साहित होंगे।

सैम करन

सैम करन

भारत को इंग्लैंड दौरे पर 1-4 से हार का सामना करना पड़ा था। जबकि भारतीय टीम हर तरह से सक्षम मानी जा रही थी, लेकिन एक नवोदित खिलाड़ी ने कुछ मैचों में फर्क डालने वाला काम किया और ये खिलाड़ी थे- सैम करन। सैम करन इंग्लैंड के ऐसे उभरते हुए बॉलिंग ऑलराउंडर हैं जो अपना दिन होने पर एक पूरा मैच ही बदल देते हैं। भारत के खिलाफ उन्होंने ना केवल नाजुक मौकों पर विकेट चटकाए बल्कि अहम मोड़ पर बल्ले से रन भी बनाकर दिए। सैम करन आईपीएल 2019 की नीलामी में महंगे खिलाड़ी साबित हुए। उनको 7.4 करोड़ रुपये में किंग्स इलेवन पंजाब ने खरीदा है।

INDvs AUS: मयंक अग्रवाल का मजाक उड़ाने वाले ऑस्ट्रेलियाई कमेंटेटर को रवि शास्त्री का करारा जवाब

मयंक अग्रवाल

मयंक अग्रवाल

घरेलू क्रिकेट में एक सीजन (फरवरी 28 तक) में 30 पारियों में कुल 8 शतक के साथ 2141 रन बनाने वाले मयंक अग्रवाल को आखिरकार उनकी मेहनत का फल मिल गया है। उनको लंबे इंतजार के बाद पृथ्वी शॉ के चोटिल होने के चलते टीम में जगह मिली और बॉक्सिंग डे टेस्ट में मयंक ने मिले मौके को दोनों हाथों से भुनाकर पहली ही पारी में 76 रन बनाए। चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में मयंक ने बेहतरीन संयम दिखाया। मयंक के आने से भारत की टेस्ट ओपनर की खोज भी पूरी हो सकती है क्योंकि मयंक के जिगरी यार केएल राहुल और भारत के दूसरे ओपनिंग बल्लेबाज मुरली विजय विदेशी दौरों पर बुरी तरह से नाकाम रहे हैं। कर्नाटक के लिए रणजी ट्रॉफी खेलने वाले इस खिलाड़ी ने सहवाग के स्टाइल में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से अपनी अलग पहचान बनाई। 27 वर्षीय इस खिलाड़ी को फेम साल 2010 के अंडर-19 वर्ल्ड कप से मिली जो न्यूजीलैंड में खेला गया था। आईपीएल में साल 2011 में इनकी बोली लगी और तब से इन्होंने RCB, दिल्ली डेयरडेविल्स और पुणे सुपर जाइंट्स के लिए एक से बढ़कर एक पारियां खेली। इन्हें वीरेंद्र सहवाग का फैन कहा जाता है।

राशिद खान

राशिद खान

20 साल का यह अफगान क्रिकेटर अपने देश के लिए क्रिकेट का चेहरा बन चुका है। अपनी शानदार लेग स्पिन गेंदबाजी और बीच बीच में बल्ले से भी बड़े शॉट मारने की क्षमता उनको क्रिकेट के बेहतरीन युवा चेहरों में शामिल कराती है। राशिद खान पिछले कुछ समय से लगातार क्रिकेट खेल रहे है। लेकिन उनका टेस्ट डेब्यु भारत के खिलाफ इसी साल तब हुआ जब टेस्ट दर्जा मिलने के बाद अफगानिस्तान ने भी अपना पहला टेस्ट भारत के खिलाफ खेला। हालांकि लाल गेदं के खेल में राशिद कोई कमाल नहीं दिखा पाए। इसका कारण उनका अधिकतर क्रिकेट सफेद गेंद से खेलना है। सफेद गेंद से राशिद का कोई तोड़ नहीं है। कई विविधताओं वाले इस लेग स्पिनर के प्रदर्शन पर 2019 में भी आईपीएल और विश्वकप जैसे बड़े टूर्नामेंटों में नजरें रहेंगी।

वरूण चक्रवर्ती

वरूण चक्रवर्ती

आईपीएल 2019 की नीलामी में इस बार जिस खिलाड़ी ने चौंकाया, उनका नाम है- वरूण चक्रवर्ती। वरूण को 8 करोड़ 40 लाख रुपये में किंग्स इलेवर पंजाब ने खरीदा। हाल के दिनों में वरुण चक्रवर्ती घरेलू क्रिकेट में प्रदर्शन काफी शानदार रहा है। तमिलनाडु प्रीमियर लीग में मदुराई पैंथर्स की ओर से खेलते हुए वरुण पर क्रिकेट के पंडितों की नजर पड़ी थी। इस टूर्नामेंट में 10 मैच खेलते हुए वरुण ने सिर्फ 4.7 की इकोनॉमी से रन खर्च थे जो इन्हें और गेंदबाजों से अलग बनाता है। इस प्रदर्शन के चलते ही वह तमिलनाडु की टीम में जगह बनाने में सफल हुए थे। एक गेंदबाज के रूप में वरूण को उनकी विविधता बहुत खास बनाती है। वे एक ही ओवर में 6 किस्म की गेंद फेंकने की काबिलियत रखते हैं। इस बारे में बात करते हुए वरूण ने बताया, 'मैं चार से पांच तरह की विविधता पर गेंदबाजी कर रहा हूं। एक अंदर आती है, एक बाहर जाती है, एक सीधी रहती है, जबकी एक प्लिपर होती है और एक जूटर। मैं और एक अलग तरह की गेंद पर भी काम कर रहा हूं।'

लुंगी नगिडी

लुंगी नगिडी

भारत के खिलाफ अपने टेस्ट और वनडे करियर की शुरूआत करने वाले नगिडी दक्षिण अफ्रीका की टीम में डेल स्टेन के चोटिल होने के चलते आए थे। अपनी शानदार गति और डेक को हार्ड तरीके से हिट करने वाला ये तेज गेंदबाज भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज की खोज साबित हुआ था। इस साल खेले गए 8 टेस्ट मैचों में नगिडी ने करीब 20 की औसत से 15 विकेट लिए हैं। वे आईपीएल 2019 में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलेंगे।

INDvs AUS: ऑस्ट्रेलिया की धज्जियां उड़ाने वाले जसप्रीत बुमराह को लेकर माइकल क्लार्क ने की बड़ी घोषणा

जसप्रीत बुमराह

जसप्रीत बुमराह

बुमराह क्रिकेट में नया नाम नहीं हैं। वे वन डे मैंचों में 2 साल पहले से ही खेल रहे हैं। लेकिन इस साल जो बुमराह ने किया वह खास था। एक गैरपंरागत एक्शन वाले गेंदबाज के तौर पर बुमराह पहले टेस्ट क्रिकेट के लिए फिट नहीं माने जाते थे। लेकिन उन्होंने साबित कर दिया कि कयास और प्रदर्शन के बीच कितना फर्क होता है। बुमराह को दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर टेस्ट टीम में शामिल किया गया था। तब से लेकर ऑस्ट्रेलिया दौरे तक इस तेज गेंदबाज ने प्रभावित करने में कसर नहीं छोड़ी है। अपने 8 मैचों के टेस्ट करियर में अब तक 39 विकेट लेने वाले बुमराह भारत के अगले बड़े पूर्ण तेज गेंदबाज बनने की और अग्रसर हैं। निश्चित रूप से वे साल 2019 के एक ऐसे खिलाड़ी होंगे जो क्रिकेट के धरातल पर और चमक बिखेरेंगे। बुमराह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट में पहली पारी में 6 विकेट लेकर भारत के लिए टेस्ट डेब्यू साल में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। उन्होंने 39 साल पुराना दिलीप डोशी का रिकॉर्ड तोड़ा है। इसके अलावा वे ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उनकी जमीन पर एक पारी में पांच या उससे ज्यादा विकेट लेने का भी कारनामा कर चुके हैं।

बेन फोक्स

बेन फोक्स

विकेटकीपरों के मामले में इंग्लैंड की टीम हमेशा से भाग्यशाली रही है। मौजूदा दौर में भी उसके पास जानी बेयरस्टो जैसे विकेटकीपर बल्लेबाज मौजूद हैं। इंग्लिश टीम में बेन फोक्स के रूप में एक और जबरदस्त विकेटकीपिंग प्रतिभा का उदय हुआ है। फोक्स ना केवल विकेटकीपिंग में महारथी हैं बल्कि वे बल्बेबाजी में भी उतने ही निपुण हैं। फोक्स ने साल 2018 के आखिरी वक्त में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया है। नवंबर में हुए इस दौरे पर फोक्स ने अपनी प्रतिभा से सबको चकित किया। उन्होंने 6 पारियों में 69 की औसत से 277 रन बनाकर इंग्लैंड को एक और नायाब प्रतिभा मिलने के संकेत दे दिए हैं। इसके अलावा वे विकेटकीपिंग में भी बेजोड़ हैं। साल 2019 में इस लंबी रेस के घोड़े पर नजरें बनी रहेगी।

हर्षा भोगले ने चुनी अपनी बेस्ट टी-20 टीम, विराट कोहली और क्रिस गेल को नहीं मिली जगह

शुभम गिल

शुभम गिल

शुभम गिल ने गत आईपीएल सीजन में कई शानदार पारियां खेली थीं और सभी को आकर्षित भी किया था। इस सीजन इस युवा खिलाड़ी ने अपने प्रदर्शन से सभी का दिल जीत लिया और शानदार प्रदर्शन किया। गौरतलब हो की अंडर-19 विश्वकप में इस 18 वर्षीय युवा बल्लेबाजों ने 5 मैच में बल्लेबाजी की थी और 372 रन बनाए थे। पंजाब के इस युवा बल्लेबाज ने इस सीजन आईपीएल में बल्लेबाजी करते हुए 13 मैच में 203 रन बनाए और 57 रन की एक आतिशी पारी भी खेली थी। शुभम गिल के आंकड़े भी उनकी प्रतिभा के गवाही देते हैं। शुभम ने 6 फर्स्ट क्लास मैचों में 82.1 की औसत से 1006 रन बनाए हैं। जबकि लिस्ट ए में उनका औसत 47.7 हैं। वहीं टी 20 मैचों में उन्होंने विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए करीब 150 के स्ट्राइक रेट के साथ बल्लेबाजी करते हुए रन बनाए हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

    Story first published: Friday, December 28, 2018, 16:47 [IST]
    Other articles published on Dec 28, 2018
    POLLS

    MyKhel से प्राप्त करें ब्रेकिंग न्यूज अलर्ट

    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Mykhel sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Mykhel website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more